Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पोस्टर पर रार: विजय गोयल ने महात्मा गांधी और पीएम मोदी को बताया साबरमती का संत

विपक्षी नेताओं ने बताया पीएम की चापलूसी।

पोस्टर पर रार: विजय गोयल ने महात्मा गांधी और पीएम मोदी को बताया साबरमती का संत

नई दिल्ली. राजधानी में एक बार फिर से पोस्टर को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। भाजपा सांसद विजय गोयल ने राष्ट्रपिता के जन्मदिवस से एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना महात्मा गांधी से करते हुए दोनों को 'साबरमती के संत' बताया। गोयल ने अशोक रोड स्थित भाजपा मुख्यालय के सामने मौजूद अपने निवास पर महात्मा गांधी के साथ मोदी के फोटो वाली होर्डिंग लगाई है। गोयल ने पोस्टर को अपने ट्विटर एकाउंट पर भी अपलोड किया था। पोस्टर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से की गई है। मोदी की तुलना महात्मा गांधी से करने वाली इन होर्डिंग पर कांग्रेस, जदयू और आप की ओर से भाजपा को कड़ी प्रतिक्रियाओं सामना करना पड़ रहा है।

हालांकि बाद में गोयल ने इस पूरे विवाद पर सफाई देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया में भारत का नाम ऊंचा किया। काफी फॉरेन इन्वेस्टमेंट आ रहा है। यही नहीं 170 से ज्यादा देश इंटरनेशनल योगा-डे मना रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि पोस्टर के माध्यम से यही बताया गया है कि महात्मा गांधी और नरेंद्र मोदी ने क्या-क्या कार्य देशहित में किए हैं। उन्होंने आगे कहा कि एक तरफ वे लोग हैं, जिन्होंने देश को गड्ढे में डाल दिया। दूसरी तरफ मोदी हैं, जो संतों की तरह 24 घंटे देश के लिए काम कर रहे हैं।
यह है विवाद-
पोस्टर के उपरी हिस्से में महात्मा गांधी की फोटो है, जिसके साथ लिखा हुआ है 'दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल, साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल'। उसके ठीक नीचे पीएम नरेंद्र मोदी की फोटो लगी है और लिखा है कि 'दे दी दुनिया में पहचान नई, ऊंचा किया भाल, साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल'।
यह बोला विपक्ष-
आप नेता आशुतोष का कहना है कि यह पोस्टर सस्ती लोकप्रियता के अलावा और कुछ नहीं हो सकती। इससे पार्टी की विचारधारा का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है कि विजय गोयल जैसे कद्दावर नेता आज चापलूसी करते हुए दिखाई दे रहे हैं।
कांग्रेस प्रवक्ता शकील अहमद ने ट्वीट किया कि भाजपा के विजय गोयल ने प्रधानमंत्री को महात्मा गांधी से मिलाया है। यह चापलूसी की इंतेहा है। आत्म मुग्ध मोदी जैसे व्यक्ति भी शायद इस पर शर्मिंदिगी महसूस करें।
उधर जदूय अध्यक्ष शरद यादव ने गोयल को निशाने पर लेते हुए कहा कि भाजपा के यह सांसद मोदी सरकार में मंत्री पद पाने के लिए यह सब कर रहे हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top