Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

काला हो गया लाल टमाटर, 80रु. किलो तक पहुंची कीमत

दिल्ली में समीक्षाधीन अवधि में टमाटर के भाव 25 रुपये से 51 रुपये किलो पहुंच गया है।

काला हो गया लाल टमाटर, 80रु. किलो तक पहुंची कीमत
नई दिल्ली. सब्जियों को जायकेदार बनाने वाले टमामर के दामों में तेजी ने रसोई का गणित बिगाड़ दिया है। आम लोगों की पहुंच से टमाटर दूर हो गया है। फसल के नुकसान से कमजोर आपूर्ति के बीच टमाटर के भाव पिछले 15 दिनों में देश में ज्यादातर खुदरा बाजारों में उछाल पर हैं और कई जगह यह दोगुने से भी अधिक होकर 80 रुपये किलो के भाव तक पहुंच गया है।
उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय द्वारा रखे जाने वाले आंकड़ों के अनुसार, इस माह के आरंभ में प्रमुख सब्जी टमाटर की कीमत 20 से 40 रुपये प्रति किलो के दायरे में थी। चेन्नई और मध्यप्रदेश में मंगलवार को इसका भाव सर्वाधिक 80 रुपये दर्ज किया गया। वहां एक जून को भाव 44 रुपये किलो था। मंत्रालय के अनुसार कोलकाता में यह दो गुना हो कर 60 रुपये तथा मुंबई में 38 रुपये बढ़कर 58 रुपये किलो हो गया है।
सूत्रों ने बताया कि इंदौर की देवी अहिल्याबाई होलकर फल-सब्जी मंडी में अच्छी गुणवत्ता वाले टमाटर के थोक भाव 45 से 50 रुपये प्रति किलोग्राम तक हैं। इस मंडी को प्रदेश में फल-सब्जियों का सबसे बड़ा थोक बिक्री केंद्र माना जाता है। सूत्रों के मुताबिक, कम आवक के नाम पर कारोबारियों और दलालों की जबर्दस्त मुनाफाखोरी के चलते खुदरा बाजार में टमाटर के भाव 80 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए हैं।
दिल्ली में समीक्षाधीन अवधि में टमाटर के भाव 25 रुपये से 51 रुपये किलो पहुंच गया है। देश का टमाटर उत्पादन फसल वर्ष 2015-16 (जुलाई से जून) में एक करोड़ 82.8 लाख टन होने का अनुमान लगाया गया है जो उत्पादन पिछले वर्ष की समान अवधि में एक करोड़ 63.8 लाख टन का हुआ था। देश में प्रमुख टमाटर उत्पादक राज्यों में कर्नाटक, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और ओड़िशा शामिल हैं।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top