Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम घोषित, दिल्ली की टीना डाबी बनीं टॉपर

दूसरे नंबर पर रहे जम्मू-कश्मीर के अतहर आमिर।

सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम घोषित, दिल्ली की टीना डाबी बनीं टॉपर
नई दिल्ली. यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) ने सिविल सर्विस एग्जाम 2015 के फाइनल रिजल्ट का मंगलवार को एलान कर दिया। इसमें दिल्ली की 22 साल की टीना डाबी ने टॉप किया। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग के रहने वाले अतहर आमिर उल शाफी खान दूसरी पोजिशन पर हैं। तीसरी रैंकिंग दिल्ली के जसमीत सिंह संधू को हासिल हुई है। बनारस की अर्तिका शुक्‍ला को चौथा स्‍थान हासिल हुआ है वहीं कानपुर के शशांक त्रिपाठी ने पांचवां स्‍थान हासिल किया है। कुल 1078 उम्मीदवारों का अंतिम रूप से चयन किया गया है। इनमें सामान्य वर्ग (जनरल) से 499, अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से 314, अनुसूचित जाति (एससी) से 176 और अनुसूचित जनजाति (एसटी) कोटे से 89 प्रत्याशी सफल हुए हैं। परीक्षार्थी अपना रिजल्ट यूपीएससी की वेबसाइट www.upsc.gov.in पर देख सकते हैं।
मेरी सक्सेस का क्रेडिट मेरी मां को- टीना डाबी
एनबीटी की खबर के मुताबिक, टीना डाबी दिल्ली यूनिवर्सिटी के लेडी श्रीराम कॉलेज में पॉलिटिकल साइंस की स्टूडेंट हैं। टीना बताती हैं कि उन्होंने फर्स्ट अटेम्प्ट में ही इस एग्जाम को कैसे क्लियर किया। उन्होंने बताया, 'मेरी सक्सेस का क्रेडिट मेरी मां को है। वे इंजीनियर रही हैं। टेलिकॉम डिपार्टमेंट में लंबी सर्विस के बाद उन्होंने इसलिए वीआरएस लिया ताकि मुझे पढ़ा सकें। 'मैंने आज अपनी मां को प्राउड फील कराया, जिन्होंने मेरे लिए काफी सेक्रिफाइस किया है। मुझे सक्सेस का तो यकीन था लेकिन यह उम्मीद नहीं थी कि मैं टॉप करूंगी। मेरी इंटरव्यू 40 मिनट का था।'
हार्डवर्क का कोई दूसरा ऑप्शन नहीं होता- अतहर आमिर
वहीं दूसरे नंबर पर रहे जम्मू-कश्मीर के अतहर आमिर। अतहर अनंतनाग के रहने वाले हैं। हिमाचल से आईआईटी पास आउट हैं। यह उनका दूसरा अटेम्प्ट था। पिछली बार उन्हें अच्छी रैकिंग नहीं मिली थी। फिलहाल वे रेलवे ट्रैफिक सर्विस में ट्रेनिंग कर रहे हैं। अतहर बताते हैं, 'यही कहना चाहूंगा कि हार्डवर्क का कोई दूसरा ऑप्शन नहीं होता। लगन से काम करने से ही नतीजा मिलता है। मुझे देश की सोसायटी, उसके कल्चर और इकोनॉमी जैसे फील्ड में गहराई से काम करने का मौका मिला है। उम्मीद है देश के लिए कुछ कर पाउंगा। मेरे लिए इंस्पिरेशन मेरे दादा जी हैं। जो ज्यादा पढ़े लिखे नहीं है और किसान हैं।'
ये है टॉप 10 की लिस्ट
1. टीना डाबी
2. अतहर आमिर उल शफी खान
3. जसमीत सिंह संधू
4. अर्तिका शुक्ला
5. शंशाक त्रिपाठी
6. आशीष तिवारी
7. शरण्या अरी
8. योगेश विजय कुंभेजकर
9. कर्ण सत्यार्थी
10. अनुपम शुक्ला
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top