Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आतंकवादी बोला-चाचा हाफिज ने भेजा था भारत

भारत अब बहादुर अली के इस कबूलनामे को पाकिस्तान के समक्ष उठा सकता है।

आतंकवादी बोला-चाचा हाफिज ने भेजा था भारत
नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में हुई मुठभेड़ में जिंदा पकड़े गए पाकिस्तानी आतंकवादी बहादुर अली ने सुरक्षा एजेंसियों की पूछताछ में कई नए खुलासे किए हैं। एक वेबसाइट के मुताबिक पूछताछ में बहादुर ने बताया कि उसे लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद ने भारत भेजा था।
बहादुर ने बताया कि उसे भारतीयों से बेइंतहा नफरत है और वह उन्हें मारने आया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत अब बहादुर अली के इस कबूलनामे को पाकिस्तान के समक्ष उठा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बहादुर ने नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) के अधिकारियों को पूछताछ में बताया कि उसे लश्कर चीफ हाफिज सईद ने भारत भेजा था।
बहादुर ने बताया कि वह हाफिज को चाचा कहकर बुलाता है। हाफिज उन्हें छोड़ने भी आया था। पूछताछ में बहादुर की भारतीयों के प्रति बेइंतहा नफरत का भी पता चला। उसने पूछताछ में बताया, मैं यहां भारतीयों को मारने आया था। मुझे भारतीय बिल्कुल पंसद नहीं हैं। उन्हें मारने के लिए आया हूं। इसके अलावा इस पाकिस्तानी आतंकी ने भारत में दाखिल होने के बारे में भी जानकारी दी। उसने बताया कि वह स्थानीय मदद से भारत में दाखिल हुआ था।
ट्रेनिंग लेकर कश्मीर आया
बहादुर को कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नौगाम सेक्टर में हुई मुठभेड़ में पकड़ा गया था। इस मुठभेड़ में उसके चार साथी मारे गए थे। उसने शुरूआती पूछताछ में अपने पाकिस्तानी के लाहौर के होने की बात कबूली थी। 22 वर्षीय बहादुर अली ने यह भी कबूल किया था कि उसे आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने 21 दिन की ट्रेनिंग दी थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top