Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डेंगू से निपटने को टीमें तैयार, अस्पतालों में अतिरिक्त डॉक्टर व अर्द्धचिकित्साकर्मी होंगे तैनात

बुराड़ी के प्रधान एन्कलेव, सुशांत विहार, जगतपुर, झड़ौदा, संतनगर, बंगाली कालोनी आदि में डेंगू के मामले तेजी से फैल रहे हैं।

डेंगू से निपटने को टीमें तैयार, अस्पतालों में अतिरिक्त डॉक्टर व अर्द्धचिकित्साकर्मी होंगे तैनात

नई दिल्ली. राजधानी में डेंगू के बढ़ते प्रकोप से निपटने के लिए अब डॉक्टरों और समाजसेवियों तथा आरडब्ल्यूए के कार्यकर्ताओं ने कमर कस ली है। अस्पतालों में अब डॉक्टरों की अतिरिक्त तैनाती होगी।

राष्ट्रीय राजधानी में डेंगू के मामलों में तेजी आने के आलोक में प्रशासन स्थिति से निबटने के लिए बड़े अस्पतालों में अतिरिक्त डॉक्टर और तकनीशियन तैनात करने की योजना बना रहा है। बड़े अस्पतालों में डेंगू मरीजों की भारी तादाद से निबटने के लिए औषधालयों एवं प्राथमिक अस्पतालों से डॉक्टर एवं तकनीशियन वहां काम पर लगाये जायेंगे।

ये भी पढ़ें : दिल्ली के मदनगीर में पति ने शादी से पहले किया बीबी का रेप, बनाया MMS

जीबी पंत अस्पताल के एक डाक्टर ने कहा कि कुछ मरीजों के पारिवारिक सदस्य आरोप लगाते हैं कि डॉक्टर उनपर उपयुक्त ध्यान नहीं दे रहे हैं जिसकी मुख्य वजह डेंगू के इलाज के लिए पहुंचने वाले लोगों की भारी तादाद है। एम्स, आरएमएल, लेडी हार्डिंग और सफदरजंग जैसे मेडिकल कॉलेजों ने मरीजों के इलाज के लिए अपने संकाय सदस्यों को रात्रि ड्यूटी पर लगा दिया है।

दिल्ली सरकार ने पांच क्षेत्रीय शाखाओं- मध्य, पूर्व, उत्तर, पश्चिम, और दक्षिण दिल्ली को अस्पतालों में कर्मचारियों की तैनाती में जरूरी बदलाव करने का परार्मश जारी किया है। डेंगू के बढ़ते मामलों के मद्देनजर स्वास्थ्य सेवा निदेशालय ने सभी सरकारी एवं निजी अस्पतालों को डेंगू के मरीजों को भर्ती करने से इनकार नहीं करने का निर्देश दिया है। दिल्ली के नगर निगम आंकड़े के अनुसार यहां पांच सितंबर तक डेंगू के 1259 मामले सामने आए।
बचाव के लिए आए समाजसेवी व आरडब्लूए
बुराड़ी के प्रधान एन्कलेव, सुशांत विहार, जगतपुर, झड़ौदा, संतनगर, बंगाली कालोनी आदि में डेंगू के मामले तेजी से फैल रहे हैं।
उत्तरी निगम व दिल्ली सरकार द्वारा अभी तक इन इलाकों में कुछ नहीं किया है ऐसे में स्थानीय आरडब्ल्यूए के लोग व समाज
सेवी खुद ही डेंगू से निपटने में लग गए है। झड़ौदा आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष व समाज सेवी चौ. कुलदीप सिंह ने वार्ड झड़ौदा में डेंगू
मच्छर मारने के लिए अपने निजी कर्मचारियों को लगा दिया है।
कुलदीप का कहना है कि क्षेत्र में सफाई करवाने, नालियों से कूड़ा निकलने व उठाने से लेकर मच्छर मारने की दवाई का छिड़काव तक करवा रहे हैं। घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं, जिससे कि मच्छर जनित बिमारियों को रोका जा सके। उन्होंने
बताया कि एक टीम बना रखी है जिसमें कई कर्मचारी हैं जिनको वेतन से लेकर सभी सुविधाएं अपनी जेब से देते हैं। यही टीम आजकल पूरे क्षेत्र में डेंगू व मच्छरों से निपटने के लिए दिन रात लगी हुई है। बकौल कुलदीप वह गत कई सालों से डेंगू व मच्छरों से निपटने के लिए नि:शुल्क सफाई व्यवस्था चला रहे हैं।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, पूरी खबर -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top