Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

टीवी शो में हिस्सा लेने के लिए किया नाबालिग का अपहरण, फिरौती न मिलने पर कर डाली हत्या

हत्या में शामिल आरोपी की उम्र साढ़े 17 साल और लड़की की उम्र 17 साल है।

टीवी शो में हिस्सा लेने के लिए किया नाबालिग का अपहरण, फिरौती न मिलने पर कर डाली हत्या
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी के बदरपुर इलाके से एक नाबालिक का अपहरण कर नृशंस हत्या का मामला सामने आया है। हत्या में शामिल दो आरोपियों को पुलिस हिरासत में ले लिया गया है। जानकारी के मुताबिक एक टीवी डांस शो में हिस्सा लेने के लिए आरोपियों के पास पैसे नहीं थे। इस बाबत उन्होंने अपहरण कर फिरौती मांगने की साजिश रच डाली। दोनों ने मिली भगत से बदरपुर से एक नाबालिक का अपहरण किया, इसके ये उसे उत्तराखंड ले गए। हत्या से पहले दोनों ने फर्जी सिमकार्ड से परिजनों से 60 हजार रुपए फिरौती मांगी थी।
दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली ज़िले के पुलिस उपायुक्त मंदीप सिंह रंधावा ने बताया कि 16 सितंबर को बदरपुर निवासी राजेश गुप्ता का बेटा स्वप्नेश (13) स्कूल से घर नहीं लौटा तो उन्होंने मामला दर्ज कराया। पुलिस ने स्वप्नेश की फोटो जिपनेट पर अपलोड की और दूसरे राज्यों से संपर्क किया।
इस बीच परिजनों को एक लड़की ने फोन कर स्वप्नेश को छोड़ने के लिए 60 हजार रुपए की फिरौती की मांग की। रुपए नहीं देने पर हत्या की धमकी दी। जांच टीम ने मोबाइल फोन को सर्विलांस पर लगाया। आरोपी बार-बार ठिकाना बदल रहे थे। जांच टीम उत्तराखंड के रामनगर गई। वहां की पुलिस से संपर्क कर मामले की जानकारी दी।
दिल्ली पुलिस ने 15 सितंबर के बाद बरामद किए गए सभी शवों के बारे में जानकारी ली। एक शव का हुलिया व उम्र आदि स्वप्नेश से मैच कर गया। माता-पिता ने शव की शिनाख्त की। उत्तराखंड से लौटी पुलिस की टीम ने दिल्ली में कई जगह छापेमारी की। एक दिन पुलिस को बाईक से फरीदाबाद की ओर जा रहे किशोर-किशोरी संदिग्ध लगे।
पुलिस ने नंबर के आधार पर बाइक के मालिक से संपर्क किया तो उसने बताया कि एक किशोर डांस अकादमी जाने के लिए उनकी बाइक मांगकर ले गया है। पुलिस फरीदाबाद स्थित डांस अकादमियों में डांस सिखाते हैं। उन्हें डांस इंडिया डांस शो में जाने के लिए 60 हजार रुपए की जरुरत थी। पुलिस ने दोनों को पकड़कर पुछताछ की। दोनों ने अपना जुर्म भी कुबूल कर लिया है।
आरोपी लड़के की उम्र साढ़े 17 साल और लड़की की उम्र 17 साल है। मामले की जांच एसीपी सरिता विहार निधिन वाल्सन की देखरेख में एसएचओ बदरपुर ऐशवर सिंह में इंस्पेक्टर राजेश कुमार एसआइ राजीव, एएसआइ राजेश कुमार, बृजमोहन, हेड कांस्टेबल विकास सोलंकी, भूप सिंह और कांस्टेबल बिजेंद्र की टीम ने की।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top