Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केजरीवाल ने निशाना साधते हुए कहा- दिन दहाड़े लूट रही हैं ऐप बेस टैक्सियां

सम-विषम के दौरान यात्रियों से अधिक किराया वसूलने को लेकर सोशल मीडिया पर जंग छिड़ी हुई है।

केजरीवाल ने निशाना साधते हुए कहा- दिन दहाड़े लूट रही हैं ऐप बेस टैक्सियां
नई दिल्ली. सम-विषम योजना पार्ट 2 के दौरान यात्रियों से अधिक किराया वसूल रहे ऐप बेस निजी टैक्सियों पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इन्हें दिन दहाड़े लूट बताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि इन टैक्सियों को कुछ मीडिया संस्थानों का भी सपोर्ट है। संस्थानों ने इनपर 150 करोड़ का निवेश किया हुआ है।
उन्होंने कहा कि दिल्ली में तय किराया से अधिक कीमत वसूलने और लोगों को ब्लैकमेल करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। लेकिन कुछ टैक्सी वालों का दावा है कि अगर उन्हें लूट की अनुमति नहीं मिलती है तो वे कैब मुहैया नहीं कराएंगे। टैक्सी कंपनियों को तय किराया से अधिक कीमत वसूलने, डीजल कारें उतारने, बगैर लाइसेंस, बैज के चालकों को उतारने और ब्लैकमेलिंग करने की इजाजत दिल्ली में नहीं दी जाएगी। ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
जब्त हुई 53 कैब
अधिक किराया वसूलने सहित अन्य समस्याओं को लेकर आई शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए सरकार ने बुधवार को 50 गाडिय़ां जब्त की। इनमें से 35 गाड़ियां दिल्ली के बाहर से हैं। सबको ओवर चाजिर्ंग के लिए पकड़ा गया। ये सब ऐप बेस्ड गाड़िय़ां हैं। इससे पहले मंगलवार को ओला-उबर की 18 कैब जब्त की थीं। इस संबंध में केजरीवाल का कहना है कि कैब कंपनिया खुलेआम ब्लैकमेलिंग कर रही हैं, तय रेट से ज्यादा पैसे वसूले जाने पर परमिट रद्द किए जाएंगे और वाहनों को जब्त किया जाएगा।
सम-विषम के दौरान यात्रियों से अधिक किराया वसूलने को लेकर सोशल मीडिया पर जंग छिड़ी हुई है। 15 अप्रैल से शुरू हुए अभियान के दूसरे दिन से ही कई जगहों पर पांच-पांच गुणा तक किराया वसूलने की शिकायत आई। इसे देखते हुए ओला और उबर को लेकर लोगों ने सोशल मीडिया पर अभियान चलाया जिसे देखते हुए सरकार भी हरकत में आई।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top