Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

टैंकर घोटाले पर जनता ने केजरीवाल से पूछे 10 सवाल

घोटाले की रिपोर्ट क्यों दबाए रखी

टैंकर घोटाले पर जनता ने केजरीवाल से पूछे 10 सवाल
नई दिल्ली. दिल्ली जलबोर्ड टैंकर घोटाले पर विपक्ष ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से 10 सवालों के जवाब मांगे है। विधानसभा में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि जनता 10 सवालों के जवाब चाहती है, इसलिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चाहिए कि इन सवालों का जवाब दें।
नेता प्रतिपक्ष गुप्ता ने पूछा कि10 जून 2016 को विधानसभा के विशेष सत्र में जब नेता प्रतिपक्ष ने ध्यान आकर्षण प्रस्ताव के जरिये टैंकर घोटाले को सदन में पूरी तरह उजागर करना चाहा और उस पर चर्चा की मांग की थी तो मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल चर्चा से क्यों भागे।
सीएम बताए कि 28 अगस्त 2015 को जल मंत्री कपिल मिर्शा ने मुख्यमंत्री को टैंकर घोटाले की फैक्ट फाइंडिंग रिपोर्ट सौंपी थी तो उस समय सीएम केजरीवाल ने शीला दीक्षित के खिलाफ एफआईआर क्यों दर्ज नहीं करवाई।
मुख्यमंत्री ने टैंकर घोटाले में शामिल किसी भी अधिकारी के खिलाफ कार्रवाही क्यों नहीं की। मुख्यमंत्री ने टैंकर घोटाले में शामिल कंपनियों के खिलाफ कोई कार्रवाही क्यों नहीं की। जल बोर्ड में भारी भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए मुख्यमंत्री ने अब तक क्या किया।
मुख्यमंत्री ने टैंकर घोटाले की रिपोर्ट को 11 महीने तक क्यों दबाए रखा। मुख्यमंत्री बताएं की शीला दीक्षित और आम आदमी पार्टी की सरकार के बीच टैंकर घोटाले में भ्रष्टाचार जारी रखने के लिए सूत्रधार कौन है।
मुख्यमंत्री ने कहा था कि वे जल बोर्ड में टैंकर व्यवस्था समाप्त कर देंगे क्योंकि इसमें भारी भ्रष्टाचार होता है। वे बताएं कि टैंकर व्यवस्था समाप्त करने के लिए उन्होंने अब तक क्या किया।
मुख्यमंत्री बताएं कि उन्होंने कितनी कॉलोनियों में पाइपलाइन के जरिये जल बोर्ड का पानी पहुंचाया और अंतिम सवाल में गुप्ता ने केजरीवाल से पूछा कि वह बताएं कि आम आदमी पार्टी ने कहा था कि जल बोर्ड का कभी भी निजीकरण नहीं किया जाएगा, फिर भी आउटसोर्स के नाम से जल बोर्ड का निजीकरण क्यों किया जा रहा है।
इस वायदे के खिलाफ मुख्यमंत्री चोरी से किश्तों में जल बोर्ड का निजीकरण कर रहे हैं, 17 जून 2016 को अखबारों में विज्ञापन देकर पानी के मीटर की चेकिंग, मीटर रीडिंग, बिल बनना, बिल बांटना आदि को निजी हाथो में क्यों दिया गया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top