Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुप्रीम कोर्ट में तैनात हेड कांस्टेबल ने की खुदकुशी

यह कांस्टेबल सुप्रीम कोर्ट में अप्रैल 2014 से तैनात था

सुप्रीम कोर्ट में तैनात हेड कांस्टेबल ने की खुदकुशी
नई दिल्ली. देश की सर्वोच्च अदालत में सोमवार सुबह उस वक्त सनसनी मच गई जब दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल ने खुदकुशी कर ली। सुप्रीम कोर्ट की सुरक्षा में तैनात दिल्ली पुलिस के कॉंन्सटेबल ने आज सुबह कोर्ट परिसर में खुद को गोली मार ली। उसकी मौके पर मौत हो गई। चांद पाल नाम का यह कांस्टेबल दिल्ली पुलिस की सिक्युरिटी यूनिट में था और सुप्रीम कोर्ट में अप्रैल 2014 से तैनात था।
गेट-G के पास खुद को मारी गोली
चांद पाल की ड्यूटी सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक कोर्ट में थी। चांद ने सुप्रीम कोर्ट के गेट-G के पास खुद को गोली मार ली। खबरों के मुताबिक चांदपाल ने करीब सुबह 8.15 बजे खुद को गोली मारी। खबर है कि जिस बंदूक से उसने खुदकुशी की वह चांदपाल की सर्विस रिवॉल्वर थी।

सुसाइड के कारणों का खुलासा नहीं
हालांकि अभी तक सुसाइड के कारणों का खुलासा नहीं हुआ है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और फॉरेंसिक टीम मौक पर पहुंचकर मामले की जांच कर रही है। पुलिस की टीम चांदपाल के परिजनों और उसके सहकर्मियों से भी पूछताछ कर रही है। चांदपाल ने ऐसा कदम क्यों उठाया इसका पता अभी नहीं चल पाया है। पुलिस चांद के फैमिली मेंबर्स और साथियों से पूछताछ कर खुदकुशी के पीछे का कारणों को जानने की कोशिश करेगी।
अप्रैल 2014 से सुप्रीम कोर्ट की सुरक्षा में तैनात
डीसीपी (नई दिल्ली) बीके सिंह ने घटना की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि मृत हवलदार का नाम चांदपाल है। पुलिस की सिक्यॉरिटी यूनिट की ओर से अप्रैल 2014 से सुप्रीम कोर्ट की सुरक्षा में तैनात थे। उनकी आज सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक ड्यूटी थी। सुबह ड्यूटी पर आने के बाद जी-गेट के अंदर बनी पोस्ट पर खुद को सर्विस रिवॉल्वर से शूट कर लिया। पुलिस टीम जांच कर रही है।
कांस्टेबल कुछ दिन से तनाव में
पुलिस सूत्रों ने बताया कि चांदपाल कुछ दिन से तनाव में था। उनका घर आरके पुरम की मोहम्मद पुर की एक सरकारी कॉलोनी में है। पुलिस की एक टीम उनके घर भेजी गई है, जो घरवालों से बातचीत करके तनाव की वजह जानने की कोशिश कर रही है। माना जा रहा है कि जिस तरह उन्होंने ड्यूटी पर पहुंचते ही खुद को शूट किया, वह बेहद तनाव में घर से ड्यूटी पर आए थे। बाकी तस्वीर उनके परिजनों से बातचीत के बाद साफ हो पाएगी। पुलिस सूत्रों ने ड्यूटी को लेकर भी तनाव से इनकार नहीं किया है, क्योंकि वह लंबे समय से सिक्यॉरिटी यूनिट में तैनात थे।
बता दें कि हाल ही के दिनों में सेना और पुलिस के जवानों के द्वारा खुदकुशी की घटनाएं बढ़ गई हैं, इसके पीछे का कारण मानसिक तनाव और ड्यूटी का टाइम बताया जा रहा है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top