Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्वतंत्रता दिवस से पहले जामिया यूनिवर्सिटी में पुलिस का छापा

छात्रों ने यूनिवर्सिटी के बाहर दिल्ली पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ नारे लगाए।

स्वतंत्रता दिवस से पहले जामिया यूनिवर्सिटी में पुलिस का छापा
नई दिल्ली. दिल्ली की जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी की जांच-पडताल करने का मामला सामने आया है। जिसका विरोध करते हुए शनिवार को सैकड़ों छात्रों ने यूनिवर्सिटी के बाहर दिल्ली पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ नारे लगाए। छात्रों ने आरोप लगाया है कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सिविल ड्रेस पहकर यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में वीडियो शूट किया है। आपको बता दें, यह जांच-पडताल स्वतंत्रता दिवस को लेकर की गई है।

स्वतंत्रता दिवस पर चौकसी रखने के लिए मारी रेड
बता दें कि शनिवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में रेड मारी। दरअसल स्वतंत्रता दिवस के चलते इस ओर कदम उठाया गया है। गौरतलब है कि हॉस्टल के अधिकारियों को इस तलाशी अभियान की खबर पहले ही दी जा चुकी थी।
छात्रों ने किया हंगामा
शनिवार दोपहर 2 बजे पुलिस की टीम काले शीशे वाली दो कारो मे आई थी। छात्रों के पूछने पर उन्हें बताया गया कि यूनिवर्सिटी प्रशासन की अनुमति पर ही ऐसा किया जा रहा है। लेकिन छात्रों का कहना है कि इस तरह से उनके निजी अधिकारो का हनन है साथ ही उनपर भारत के खिलाफ गैर-गतिविधियो फैलाने को लेकर शक किया जा रहा है। छात्रों ने यह भी कहा कि ऐसा केवल अल्पसंख्यक संस्थानो में होता है। छात्रों का कहना है कि हमे इस बात की खबर लगने से रात भर नींद नहीं आई।
पहले तो कभी पुलिस नहीं आई
फर्स्टपोस्ट इंडिया की खबर के मुताबिक, यूनिवर्सिटी के प्रॉक्टर महताब आलम ने कहा कि जांच का यह सिलसिला शुरु से है और बीते गणतंत्र दिवस पर भी इस तरह की जांच की गई थी, लेकिन जब पुलिस की कोई टीम यहां नहीं आई थी। वहीं पीटीआइ के हवाले से पता चला है कि यूनिवर्सिटी के अधिकारिओं ने इसे एक रुटीन वेरीफिकेशन बताया है और साथ ही दिल्ली पुलिस के अधिकारिओं का भी यही मानना है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top