Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश के सबसे बड़े चैन स्नैचिंग गिरोह का भंडाफोड़, बाप-बेटे थे मास्टरमाइंड!

बाप बेटे कंपनी में काम करने वाले लोगों को तनख्वाह भी देते थे।

देश के सबसे बड़े चैन स्नैचिंग गिरोह का भंडाफोड़, बाप-बेटे थे मास्टरमाइंड!
X

आज कल आए दिन चैन स्नैचिंग की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं। ऐसे में दिल्ली पुलिस को एक बड़ी सफतला हाथ लगी है। दिल्ली पुलिस ने मंगोलपुरी क्षेत्र से पुलिस ने बड़े चैन स्नैचिंग गिरोह का भंडाफोड़ किया है।

इस चैन स्नैचिंग गिरोह के मुखिया दो शातिर बाप बेटे थे। इन बाप बेटे ने अपना चैन स्नैचिंग का धंधा कुछ इस कदर बढ़ा लिया था कि उन्होंने इस काम के लिए कुछ और लोगों को भी अपने साथ शामिल किया था और इसके लिए उन्हें तनख्वाह भी देते थे।

इसे भी पढ़ें: बिहार: बस और टेम्पो में भयंकर टक्कर, 9 ने सड़क पर ही तोड़ा दम, दर्जनों अस्पताल में भर्ती

पुलिस ने छापा मार मौके से 54 मोबाइल फोन और लैपटॉप जब्त किए हैं। पुलिस ने जानकारी दी कि दोनों बाप बेटे अपने गिरोह से धंधे का माल ले कर अपने घर जा रहे थे।

पुलिस ने जानकारी दी कि इन दोनों बाप बेटे ने अपना नेटवर्क इतना बढ़ा लिया था कि उन्हें इस काम पर 50 अतिरिक्त लोगों को तनख्वाह पर रखना पड़ा था।

ये गैंग न केवल लोगों की चैन की खींचता था बल्कि कार, ऑटो रिक्शा से लोगों के मोबाइल और लैपटॉप तक को भी चुरा लेते थे। इन ठग बाप बेटे ने अपने गिरोह को 'कंपनी'नाम दिया था।

इसे भी पढ़ें: सावन में नाग-नागिन ने दिए दर्शन, लगी शिव भक्तों की भीड़

पुलिस ने जानकारी दी कि ये लोग अपनी 'कंपनी' में किसी नौसिखुए लोगों को काम पर नहीं रखते थे, नौसिखुए लोगों के लिए ट्रेनिंग होती थी जिसमें उनके साथ इस काम में सिद्धहस्त गुरु लोग होते थे। कंपनी में जॉब से पहले इस क्षेत्र में उमीदवारों का एक्स्पेरिंस भी पूछा जाता था।

बता दें कि चैन स्नैचिंग गिरोह के मास्टरमाइंड बाप-बेटे का नाम था नंद किशोर और सुभाष। पुलिस ने बताया कि उत्तर पूर्वी दिल्ली, वेस्ट दिल्ली और आउटर के इलाकों में इन लोगों ने अपना जाल फैला रखा था और ज़्यादातर ये लोग सप्ताह के छुट्टी वाले दिन लूट को अंजाम दिया करते थे।

डीसीपी एमएन तिवारी ने जानकारी कि दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर स्पेशल स्टाफ सुखबीर मलिक को शनिवार को यह पता चला कि बाप बेटे मंगोलपुरी में अपने गिरोह से लूट के माल की वसूली करने जा रहे हैं।

इसलिए पुलिस ने शुरू से ही इनका पीछा कर उन्हें तब धर दबोचा जब ये दोनों अपने गिरोह से लूट का माल लेकर अपनी कार में बैठने जा रहे थे। पुलिस ने उनके पास से दो लाख रुपये नकद जब्त किए हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story