Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आतंकियों को ख़ौफजदा करेगा ''ऑपरेशन दृश्यम''

दिल्ली पर मंडरा रहे आतंकी खतरे को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने तैयार किया ''ऑपरेशन दृश्यम''

आतंकियों को ख़ौफजदा करेगा

नई दिल्ली. आईएसआईएस की धमकी और अलकायदा के इंडियन मोड्यूल से जुड़े संदिग्ध आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद राजधानी दिल्ली पर मंडरा रहे आतंकी खतरे को देखते हुए मध्य जिला पुलिस ने जिले में पुलिस की मौजूदगी को जाहिर करने,जनता और पुलिस के बीच की दुरी को कम करने के उद्देश्य जिलेभर में 'ऑपरेशन दृश्यम' चलाने का फैसला किया है। जिले के आला अधिकारियों के साथ 100 पुलिस वालों की भारी भरकम टीम ऑपरेशन में शामिल होगी, दरअसल एक साथ इतने पुलिस वालों को पहली बार किसी ऑपरेशन में शामिल किया जा रहा है।

मंगलवार से शुरू होने वाला यह विशेष ऑपरेशन गणतंत्र दिवस समारोह तक जारी रहेगा। मध्य जिले के डीसीपी परमादित्य ने 'ऑपरेशन दृश्यम' के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि जिले के भीड़-भाड़ वाले बाजारों खासकर करोल बाग,पहाड़ गंज,पटेल नगर के साथ साथ संवेदनशील इलाकों में यह स्पेशल ड्राइव चलाया जायेगा।

बॉलीवुड की फिल्म सिंघम से प्रभावित यह ऑपरेशन खुद जिले के डीसीपी, एडिशनल डीसीपी के नेतृत्व में चलेगा। इसके तहत करीब 100 पुलिस वालों की भारी भरकम टीम के साथ जिले के आला अधिकारी पैदल ही इलाकों में मार्च निकालेंगे, सबसे पहले हथियारों से लैस जवान और आधा दर्जन बाइक सवार पुलिस कर्मी इनके पीछे पीछे पुलिस की कई जिप्सी भी चलेंगी।

डीसीपी के अनुसार,जैसे जैसे ऑपरेशन में शामिल टीम आगे बढ़ेगी वैसे वैसे ही बीट अफसर भी इस टीम के साथ जुड़ते चले जायेंगे। इस ऑपरेशन के तहत पुलिस के अधिकारी लोगों से बातचीत करते हुए उनकी दिक्कतों को सुनते हुए और उन्हें किसी भी अंजाम के प्रति सजग रहके साथ साथ अपने घरों में रखे जाने वाले किरायदारों और दुसरे लोगों के प्रति भी जागरूक रहने का आह्वान किया जायगा।

उन्होंने बताया कि एक साथ इतने पुलिस वालों को स्पेशल ड्राइव में शामिल किये जाने का मकसद यही है कि असमाजिक तत्वों में पुलिस का भय कायम हो,साथ ही इलाके की जनता में पुलिस के प्रति विश्वास कायम हो कि पुलिस सदैव उनके साथ है। ऑपरेशन के दौरान जीओ फेंसिंग,और बीट बॉक्स को लेकर भी दिशा निर्देश जारी होंगे।

डीसीपी के अनुसार, 26 जनवरी को होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह से पहले इस महीने के अंत तक भी कई महत्वपूर्ण आयोजन होने हैं जैसे ईद मिलादु उन नबी के मौके पर जिले के विभिन्न क्षेत्रों में धार्मिक आयोजन होते हैं इसके साथ ही क्रिसमस (बड़ा दिन) भी स्लेब्रेशन चलते हैं इसके साथ ही अंतिम सप्ताह से ही नए साल के जश्न भी लोग मनाने शुरू कर देते हैं।

इसे देखते हुए पुलिस ने भी अपनी मौजूदगी के लिए ऑपरेशन दृश्यम शुरू किया है। डीसीपी के मुताबिक कई बार अपराधिक किस्म के लोगों को यह गलतफहमी हो जाती है कि पुलिस उन्हें नहीं देख रही है ऐसे में कुछ भी करके लोगों में दहशत फैला सकते हैं,मगर वह भूल जाते हैं कि अपराधियों से निपटने के लिए पुलिस सदैव तैयार रहती है।

महिला सुरक्षा में कारगर होगा ऑपरेशन..
डीसीपी के अनुसार, इस स्पेशल ड्राइव ऑपरेशन दृश्यम को ऐसे इलाकों में भी चलाया जायेगा जहां महिलाओं के प्रति अपराधिक वारदातों के होने की संभावना कुछ ज्यादा होती है। आनंद पर्वत,नबी करीम,झील वाला पार्क,मुल्तानी ढांडा,तिकोना पार्क जैसे इलाकों में भी ऑपरेशन दृश्यम चलाया जायेगा। इस दौरान पुलिस के अधिकारी इलाके की महिलाओं बुजुर्गों से बातचीत करेंगे ताकि पुलिस के प्रति महिलाओं और बुजुर्गों में विश्वास कायम हो।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top