Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रिपब्लिक डे पर सुरक्षा में बड़ी चूक, खराब पड़े हैं 700 सीसीटीवी कैमरे

दिल्ली में आईबी की सुरक्षा व्यवस्था जांच में एक गहरी कमी सामने आई है।

रिपब्लिक डे पर सुरक्षा में बड़ी चूक, खराब पड़े हैं 700 सीसीटीवी कैमरे
नई दिल्ली. देश के 68वें गणतंत्र दिवस की तैयारियां भले ही शुरु हो चुकी हैं, लेकिन इसके साथ ही हम सभी प्रशासन की कामचोरी और सुरक्षा में होने वाली चूक से अच्छी तरह वाकिफ हैं। रिपब्लिक डे के बस दो दिन बाकी हैं, लेकिन राजधानी में सुरक्षा व्यवस्था हाशिए पर है।
गणतंत्र दिवस के मौके पर आतंकी हमलों की खबरें कोई नई बात नहीं हैं। ऐसे में दिल्ली में हाईवे और सड़को पर लगे सीसीटीवी कैमरे ही मरम्मत मांग रहे हैं। दिल्ली में सड़कों, होटलों, गेस्ट हाउस, टैक्सी स्डैंड पर लगे करीब 700 कैमरे खराब हैं। जो देश में राष्ट्रीय पर्व पर करोड़ों जनता की जान जोखिम में डालती सुरक्षा व्यवस्था को आईना दिखा रहे हैं।
सुरक्षा ऑडिट खुफिया एजेंसियों द्वारा सर्वे में सुरक्षा व्यवस्था जांच में एक गहरी कमी सामने आई है। इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) की जांच में दिल्ली में लगे 5000 सीसीटावी कैमरों में से करीब 700 कैमरे खराब हैं। वहीं शहर में सुरक्षा के लिए हाई अलर्ट जारी किया हुआ है। आईबी का कहना है कि दिल्ली पुलिस को तुरंत इस पर एक्शन लेने की जरुरत है। सुरक्षा व्यवस्था को मुंह चिढ़ाती यह कमी अपने आप में एक बड़ी चूक हो सकती है।
आईबी की स्क्रीनिंग टीम ने पाईं ये खामियां-
इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक एक स्थानीय बीट कांस्टेबल और एक विशेष प्रकोष्ठ कार्यकर्ता सहित आईबी की कम से कम 25 स्क्रीनिंग टीमों ने पाया कि दिल्ली में होटलों, गेस्टहाउसों और लॉज, बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर लगे 700 स्क्रीनिंग सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हैं।
टैक्सी स्टैंड, पार्किंग की जगह मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हॉल तक में सुरक्षा के लिए लगे कैमरे काम ही नहीं कर रहे हैं। इन टीमों में पाया गया कि शहर में ऐसी संवेदनशील जगहों पर लगे सीसीटीवी कैमरे इमेंरजेंसी मे काम ही नहीं आएंगे। टीम ने अपनी जांच में पाया कि पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन में, सभी 136 सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हैं।
जबकि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर भी सुरक्षा व्यवस्था टाइट नहीं है। आईबी को इस बात पर भी शक है कि कई गेस्ट हाउस और लॉज बिना "लाइसेंस" के ही चलाए जा रहे हैं। साथ ही गेस्ट हाउसों में मेहमानों को बिना रिकॉर्ड और जानकारी रखे ही एंट्री दी जा रही है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top