Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऑड-ईवन: सरकार की सख्ती के बाद हरकत में आई उबर-ओला, किराए पर लगाई रोक

दिल्ली सरकार ने उबर और ओला कंपनियों की 18 टैक्सियों को जब्त किया।

ऑड-ईवन: सरकार की सख्ती के बाद हरकत में आई उबर-ओला, किराए पर लगाई रोक
नई दिल्ली. दिल्ली में ऑड-ईवन पार्ट-2 का आज पांचवां दिन है। इस नियम के दायरे से बाहर आने वाली गाड़ियों को छोड़ दें तो आज सिर्फ ऑड नंबर की गाड़ियों को ही सड़कों पर उतरने की इजाज़त होगी, लेकिन आज सबकी नज़र ऐप बेस्ड टैक्सी सर्विस पर है। दिल्ली सरकार की ओर से एक हेल्पलाइन नंबर : 01142400400 जारी किया गया है। ज्यादा किराया वसूलने पर इस नंबर पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। अधिक किराया वसूलने के चलते दिल्ली सरकार ने उबर और ओला की 18 टैक्सियों को जब्त कर लिया है।
ऑड-ईवन के दौरान किराया बढ़ाने को लेकर ऐप आधारित टैक्सियों को मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चेतावनी दी है, जिसके बाद ओला ने अस्थायी तौर पर सर्ज प्राइसिंग हटा ली है जबकि उबर का कहना है कि वह सरकार के रवैये से हैरान है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया था कि उन टैक्सियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी, जो सरकार द्वारा तय रेट से ज़्यादा पैसे वसूलेंगे। उनके परमिट रद्द होंगे और वाहनों को ज़ब्त किया जाएगा।
उबर इंडिया के महाप्रबंधक गगन भाटिया ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा हमारे सहयोगी ड्राइवर साझेदारों के वाहनों का परमिट रद्द करने और जब्त करने की धमकी दिए जाने कारण हम दिल्ली में तत्काल प्रभाव से अस्थायी रूप से किराये में वृद्धि प्रणाली को रोक रहे हैं। दिल्ली को चलायमान रखने के लिए हम सरकार के साथ मिलकर काम करने की उम्मीद करते हैं, विशेषकर ऐसे समय में जब नागरिकों को हमारी सबसे ज्यादा जरूरत है।
उन्होंने बताया कि कंपनी ‘नियमित तौर पर जब आपूर्ति से अधिक मांग होती है तो किराये में वृद्धि करती है।’ ताकि व्यस्ततम समय में भी सड़कों पर कारों को रखा जा सके। दरअसल, सरकार को ऐप-आधारित टैक्सी सेवा कंपनियों ओला और उबर के खिलाफ भीड़भाड़ के समय किराया बढ़ाने की कुछ शिकायतें मिली हैं, जिसके बाद सरकार ने यह रुख अपनाया है।
आगे की स्लाइड् में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top