Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जाम में फंसे परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, तो मांगा एक्शन प्लान

केंद्र सरकार ने दिल्ली से कटरा तक देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे परियोजना रिपोर्ट भी तैयार की है।

जाम में फंसे परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, तो मांगा एक्शन प्लान
नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नीतिन गडकरी दिल्ली के जाम में सोमवार रात जब करीब दो घंटे फंसे रहे तो उन्होंने दिल्ली के यातायात की विकराल समस्या को सहजता से महसूस किया। गडकरी ने मंगलवार को एनएचआई के अधिकारियों की बैठक बुलाकर दिल्ली यातायात पर एक्शन प्लान बनाने के निर्देश दिए।
केंद्र सरकार ने दिल्ली को जाम से राहत देने के लिए भले ही पिछले महीने एनसीआर के लिए 371 किमी लंबे गोल्डन नेक्लेस के रूप में 11,673 करोड़ रुपये की लागत पर ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे की आधारशिला रख दी हो, लेकिन राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के यातायात की समस्या कितनी विकराल है उसका केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी खुद भी महसूस करने को मजबूर हो गए, जो बीती रात करीब दो घंटे जाम में फंसे रहने के बाद अपनी मंजिल तक पहुंचे। दरअसल सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी गुडगांव-महिपालपुर फ्लाईओवर पर सोमवार रात करीब दो घंटे तक जाम में फंसे रहे।
हालांकि सोमवार की रात में दिल्ली में ही सैकड़ों की संख्या में विवाह समारोह होने के कारण दिल्ली-गुडगांव ही नहीं, बल्कि दिल्ली-करनाल, दिल्ली-देहरादून-आगरा, मुरादाबाद आदि राजमागोर्ं पर यातायात जाम की यही स्थिति बनी हुई थी। खुद जाम में फंसने से खफा केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को अपने मंत्रालयों और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण यानि एनएचआईए के अधिकारियों की बैठक बुलाकर दिल्ली यातायात के लिए जल्द से जल्द ऐसा एक्शन प्लान तैयार करने के निर्देश दिए कि किसी भी स्थिति में ये सड़क मार्ग जाम फ्री रह सकें।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top