Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिना वीजा के नाइजीरियन ने की करोड़ों की ठगी, देशभर में फैला है नेटवर्क

दिल्ली में 20 हजार नाईजीरियन में से 75 फीसदी ठगी में शामिल हैं।

बिना वीजा के नाइजीरियन ने की करोड़ों की ठगी, देशभर में फैला है नेटवर्क

सहारा कंपनी के कैशियर प्रदीप बेडोले से करोड़ रुपए ठगने वाले नाइजीरियन गिरोह ने पुलिसिया पूछताछ में चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। गिरोह के सदस्य वीजा अवधि समाप्त होने के बाद भी दिल्ली जैसे हाईसिक्योरिटी शहर में रह रहे थे।

यही रहकर उन्होंने देश के छह राज्यों में लोगों से करीब 40 करोड़ की ठगी की। आरोपियों के अनुसार दिल्ली में लगभग 20 हजार नाइजीरियन रहते हैं। इनमें 75 फीसदी नाइजीरियन ठगी का ही काम करते हैं।

ये लोग कीट नाशक दवाओं की एजेंसी, कपड़े की एजेंसी, महिलाओं की नेचूरल बाल के कारोबार की आड़ में लोगों को ठगने का काम करते हैं। गिरोह के सदस्यों ने कॉल सेंटर का संचालन कर छत्तीसगढ़ ही नहीं बल्कि आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, कनार्टक में कारोबारी व नौकरीपेशा लोगों से ठगी करते रहे।

क्राइम ब्रांच की जांच में नाइजीरिया फेडेलिस हैरिस इकेचु उर्फ ड्रे और मार्टिन योबन्न न्यासोलिया के पास वीजा नहीं मिला है। इसकी सूचना दूतावास को भेज दी है। पांच ठगों को कोर्ट में पेश कर वहां से जेल भेज दिया गया है।

अक्टूबर में खत्म हो गया है वीजा

जानकारी के मुताबिक ड्रे-बिजनेस वीजा पर वर्ष 2008 में दिल्ली आया था। इसके वीजा की अंतिम अवधि अक्टूबर 2016 में ही समाप्त हो गई है, जबकि मार्टिन 2010 में बिजनेस बीजा पर दिल्ली आया था। इसके वीजा की अवधि नवंबर 2016 में समाप्त हो चुकी है। इस दौरान जहां वे किराए के मकान पर रहते थे, उसके मकान मालिक ने भी पुलिस को सूचना नहीं दी।

एक ही पैटर्न से सब जगह ठगी

जानकारी के मुताबिक, नाइजीरियन ठगों ने जिस पैटर्न पर कैशियर से ठगी की है, ठीक उसी पैटर्न पर आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा, यूपी के नोएडा, राजस्थान के जयपुर, कर्नाटक के मैसूर, तेलंगाना के हैदराबाद में दर्जनभर कारोबारी और नौकरीपेशाें को अपने जाल में फंसाया।

लोकल नेटवर्क के शामिल होने की आशंका

ठगों के पास से मिली 30 मोबाइल फोन का पुलिस ने आईएमईआर नंबर ट्रेस किया है। 12 सिमकार्ड की डिटेल पुलिस ने हासिल किया है। इन नंबरों से दिल्ली के अलावा कई राज्यों में फोन किया गया है। इसके आधार पर पुलिस उन लोगों तक पहुंचने में जुटी है। आशंका है कि वे लोग नाइजीरियन गिरोह के लोकल नेटवर्क में शामिल हैं।

6 राज्यों में ठगी

रायपुर एसपी डॉ. संजीव शुक्ला ने कहा कि दो नाइजीरिया ठग के वीजा की अवधि सालभर पहले खत्म हो चुकी है। छत्तीसगढ़ समेत 6 राज्यों से ठगी की आशंका है। सिमकार्ड की डिटेल से कई सुराग मिले है।

Next Story
Top