Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत में दौड़ेगी पहली बिना ड्राइवर के मेट्रो ट्रेन, 10 गुना ज्यादा स्पीड

अरविंद केजरीवाल और वेंकैया नायडू ने बिना ड्राइवर वाली मेट्रो ट्रेन को हरी झंडी दिखाई।

भारत में दौड़ेगी पहली बिना ड्राइवर के मेट्रो ट्रेन, 10 गुना ज्यादा स्पीड
नई दिल्ली. दिल्ली में लाखों लोगों को अपनी मंजिल तक पहुंचाने वाली दिल्ली मेट्रो ने एक नया इतिहास रचने जा रही है। जल्द ही दिल्ली में बिना ड्राइवर वाली मेट्रो दौड़ेगी। दिल्ली मेट्रो की नई ‘चालक रहित’ ट्रेनों का प्रायोगिक परिचालन मंगलवार से शुरू हुआ। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने मेट्रो के आगामी मजलिस पार्क- शिव विहार कॉरिडोर (लाइन 7) के मुकुंदरपुर डिपो पर ‘अनएटेंडेट ट्रेन ऑपरेशन’ मोड पर चलने के लिए लैस ऐसी एक ट्रेन को हरी झंडी दिखायी।
बता दें कि इस साल के आखिरी तक ड्राइवरलेस मेट्रो चलाने की प्लानिंग है। और इसकी स्पीड 10 फीसदी ज्यादा होगी तो वही डीएमआरसी के मुताबिक ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन की स्पीड मौजूदा ट्रेन से 10 फीसदी ज्यादा होगी और मेट्रो के मौजूदा बेड़े में 14 ड्राइवरलेस ट्रेन शामिल की गई हैं। ट्रायल के बाद हर महीने चार नई ट्रेने रहित मेट्रो ट्रेनों को बेड़े में शामिल किया जाएगा। ड्राइवरलेस मेट्रो कोरिया मूल की रोटेम नामक कंपनी ने तैयार किया है।
ये है प्लानिंग
बता दें कि डीएमआरसी के अफसरों ने बताया कि मुकुंदपुर डिपो और मजलिस पार्क मेट्रो स्टेशन में हुए सक्सेसफुल ट्रायल रन के बाद जुलाई से बॉटनिकल गार्डन से कालकाजी मेट्रो स्टेशन तक इन ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेनों का ट्रायल रन किया जाएगा। डीएमआरसी ने मेट्रो के तीसरे रूट पर ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन चलाने का फैसला लिया है। खास बात यह है कि यह नई मेट्रो कई नए फीचर्स से लेस। थर्ड फेज में जुलाई 2016 में आप इस ड्राइवरलेस मेट्रो में सफर कर सकेंगे। शुरुआत में ट्रेन मेट्रो की तीसरे फेज की मेट्रो लाइन पर चलेगी। तीसरा फेस मजलिस पार्क- शिव विहार और जनकपुरी वेस्ट- बॉटेनिकल गार्डन से कालकाजी तक है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top