Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CNG फिटनेस घोटला : एसीबी चीफ मुकेश मीणा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

आयोग ने 3 सितंबर को एक समन भेजकर एसीबी प्रमुख मीणा को हाजिर होने के लिए कहा था

CNG फिटनेस घोटला : एसीबी चीफ मुकेश मीणा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी
नई दिल्ली. एंटी करप्शन ब्यूरो के चीफ मुकेश मीणा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हो गया है इसके साथ ही उनकी सैलरी में से भी 30 प्रतिशत की कटौती भी कर दी गई है। सौ करोड़ रुपये के सीएनजी फिटनेस घोटाले की जांच के लिये दिल्ली सरकार द्वारा गठित अग्रवाल आयोग ने भ्रष्टाचार निरोधक शाखा(एसीबी) के संयुक्त आयुक्त मुकेश कुमार मीणा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है।
दिल्ली सरकार ने सीएनजी मामले की जांच के लिये उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश एस. एन. अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोग गठित किया है। दिल्ली में शीला दीक्षित सरकार के दौरान कथित रूप से हुए सीएनजी फिटनेस घोटाला के मामले में वर्तमान में दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा गठित जस्टिस एसएन अग्रवाल आयोग ने एंटी करप्शन ब्यूरो के प्रमुख मुकेश कुमार मीणा की सैलरी का 30 प्रतिशत हिस्सा काटने का आदेश दिया है। ये कार्रवाई मीणा के आयोग के सामने पेश न होने के चलते की गई है।
इस मामले में दिल्ली पुलिस ने तुरंत इस आदेश के जवाब में कह दिया है कि मीणा की सैलरी दिल्ली पुलिस देती है और दिल्ली पुलिस पुलिस को ही इस आदेश को तामील कराना होगा। शुक्रवार को जस्टिस अग्रवाल आयोग ने एसीबी चीफ मुकेश मीणा के खिलाफ यह आदेश दिया क्योंकि आयोग ने 3 सितंबर को एक समन भेजकर एसीबी प्रमुख मीणा को हाजिर होने के लिए कहा था और वे आज हाजिर नहीं हुए।
बता दें कि उसी समय मुकेश मीणा ने कहा था कि गृहमंत्रालय का नोटिफिकेशन है कि आयोग जो जांच कर रहा है वह अवैध है। और उन्हें जो समन मिला है, उन्हें जवाब देने का मतलब ही नहीं है।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top