Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एमसीडी की पेंशन लिस्ट में गड़बड़झाला, उम्र में मां से बड़ी निकली बेटी

कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली सरकार इन लोगों को पेंशन की सुविधा उपलब्ध करवाएंगी।

एमसीडी की पेंशन लिस्ट में गड़बड़झाला, उम्र में मां से बड़ी निकली बेटी
X
नई दिल्ली. अकसर मां बेटी से उम्र में बड़ी होती है, लेकिन दिल्ली नगर निगम की लिस्ट में बेटी की उम्र मां से बड़ी पाई गई है। यहीं नहीं एक ही औरत दो घर में रह रही है और दोनों जगहों पर उनके पति भी अलग-अलग पाए गए। यह हकीकत में नहीं बल्कि दिल्ली नगर निगम की पेंशन लिस्ट का कारनामा है। कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली सरकार के पास पहुंची दिल्ली नगर निगम की पेंशन लिस्ट की जांच में भारी गड़बड़ी पाई गई है। सूत्रों की माने तो सूची के प्राथमिक निरीक्षण के दौरान पांच हजार से अधिक लोग फर्जी पाए गए हैं। इनमें ऐसे लोग भी मिल रहे है जिन्हें दो-तीन जगहों पर पेंशन का लाभ दिया जा रहा था।
लोगों को पेंशन की सुविधा
यहीं नहीं कुछ कम उम्र के लोगों ने फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे वृद्धावस्था पेंशन का लाभ लिया है। इनके अलावा कई लोग ऐसे मिले जिनके नाम मेल नहीं खा रहे। साथ ही कई अन्य प्रकार की खामियां भी हैं। इस संबंध में समाज कल्याण विभाग के अधिकारी ने बताया कि दिल्ली नगर निगम द्वारा सौंपी गई पेंशन लिस्ट की गंभीरता से जांच की जा रही है। हमारा मामना है कि जांच के बाद सभी फर्जी पेंशनधारी का नाम काट दिया जाएगा। गौरतलब है कि पूर्वी व दक्षिणी नगर निगम से वृद्धावस्था, दिव्यांग, विधवा सहित अन्य प्रकार की पेंशन की सुविधा ले रहे लोगों की सूची कुछ दिनों पहले ही दिल्ली सरकार को भेजी गई है। जबकि उत्तरी दिल्ली नगर निगम की सूची का इंतजार है। मिली सूची में करीब डेढ़ लाख लोगों का नाम है। कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली सरकार इन लोगों को पेंशन की सुविधा उपलब्ध करवाएंगी।
आधार कार्ड से जुड़ेंगे
पेंशन की सुविधा ले रहे सभी लोगों को आधार कार्ड के माध्यम से जोड़ा जाएगा। इस संबंध में समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि आधार कार्ड से जोड़ने के बाद सभी फर्जी लोग अपने आप ही कट जाएंगे। साथ ही ऐसे लोगों की भी पहचान हो जाएगी जो जरूरतमंद नहीं है। सरकार नियम के आधार पर ही पेंशन की सुविधा उपलब्ध करवाएगी। लेकिन निगम ने ऐसे लोगों को भी पेंशन दे दी जो हकदार नहीं है।
बंद होगी बंदरबांट
आप नेताओं की माने तो जांच के बाद पेंशन की बंदरबाट खत्म होगी। अबतक पेंशन के नाम पर राजनीति होती रही है। लोगों से बातचीत के दौरान पाया गया है कि पार्षदों से ऐसे लोगों को पेंशन का लाभ दिया जो उनके करीबी थे जबकि वह नियमों के आधार पर खड़े नहीं उतरते थे। जांच के बाद यह बंदरबांट खत्म हो जाएगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story