Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एटीएम में वारदातों की हाफ सेंचुरी लगाने वाला अरेस्ट

एटीएम सिक्योरिटी एजेंसी ने उसके उपर 35 हजार का इनाम रखा था।

एटीएम में वारदातों की हाफ सेंचुरी लगाने वाला अरेस्ट

नई दिल्ली. पश्चिमी दिल्ली के कीर्ति नगर थाना पुलिस ने एक शातिर बदमाश को दबोचा है। आरोपी सिर्फ एटीएम को निशाना बनाता था। खास बात यह है कि आरोपी एटीएम मशीन के साथ कोई छेड़छाड़ नही करता है। वह एटीएम में रखे चेक बाक्स को ही निशाना बनाता था। आरोपी की पहचान लोनी निवासी सचिन (23) के रूप में हुई है। पुलिस ने इसके पास से एक छोटी टार्च,पेचकश,चिमटी व फ्लूड बरामद किया है।

घटना के बारे में पूछे जाने पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कीर्ति नगर थाना पुलिस को काफी समय से एटीएम में चोरी होने की सूचना मिल रही थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए कीर्ति नगर एसएचओ मनोज कुमार ने इलाके में गश्त बढ़ा दी। अधिकारी के अनुसार सुबह सब इंस्पेक्टर परितोष हेड कांस्टेबल विनोद व कांस्टेबल दिलीप के साथ गश्त कर रहे थे। तभी उन्हें एक राहगीर ने सूचना दी की कोई व्यक्ति यश बैंक के एटीएम के अंदर छेड़छाड़ कर रहा है।
पुलिस तुरंत एटीएम के पास पहुंची। जहां उन्होने देखा एक युवक एटीएम से बड़ी तेजी से निकल रहा है। पुलिस ने युवक को रूकने के लिए कहा। जिसपर युवक वहां से भागने लगा। पुलिसकर्मी भी उसके पीछे भागे। कुछ दूर जाकर हेडकांस्टेबल विनोद ने युवक को दबोच लिया। पूछताछ करने पर आरोपी ने अपना अपराध कबूल किया। आरोपी 12वीं तक पढ़ा हुआ है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह पहले किसी ओर के साथ एटीएम को निशाना बनाता था। काम सहीं तरह सीखने के बाद वह अकेले ही वारदात को अंजाम देने लगा।

चेक को ही बनाता था निशाना
पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह एटीएम में सिर्फ चेक बाक्स को ही निशाना बनाता था। चेक को निकलाने के बाद सबसे पहले वह स्लफ चेक को अलग करता था और बैंक में जाकर रुपए निकाल लेता था। बाकि के चेकों पर वह फ्लूड का इस्तेमाल कर अपना नाम लिख लेता था और बैंक में जाकर अपने अकाउंट में रुपए डलवा लेता था। अधिकारी के अनुसार, जितने चेक कैश होने के बाद बच जाते थे आरोपी उन्हें जला देता था।

छुट्टी वाले दिन ही वारदात को देता था अंजाम
अधिकारी की माने तो आरोपी सचिन सिर्फ छुट्टी वाले दिन (यानि रविवार) को ही वारदात को अंजाम देता था। वह उस एटीएम को ही निशाना बनाता था जिसमें गार्ड नही होते। साथ ही वह यह भी चेक करता था कि किस एटीएम में चेक बाक्स है। एटीएम में वारदात के समय वह इस तरह का नाटक करता था, जैसे की वह एटीएम मशीन को बनाने आया हो।
एटीएम सिक्योरिटी एजेंसी ने रखा था 35 हजार का इनाम
पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, आरोपी सचिन से परेशान होकर एटीएम सिक्योरिटी एजेंसी ने उसके उपर 35 हजार का इनाम रखा था। एजेंसी का कहना था की कोई भी गार्ड व अन्य व्यक्ति इस आरोपी को पकड़ेगा उसे 35 हजार रुपए का इनाम मिलेगा। इसके लिए एजेंसी ने इसका फोटो भी सभी एटीएम गार्ड को दिया था।
50 से ज्यादा कर चुका है वारदात
पकड़ा गया आरोपी सचिन अब तक करीब 50 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुका है। आरोपी ने पॉश इलाके कहे जाने वाले मालवीय नगर,साउथ दिल्ली जैसे कई इलाकों में एटीएम को निशाना बनाया है। आरोपी ने अब तक करीब 20 लाख रुपए चेक द्वारा निकाले है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top