Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: जून में होगा मैडम तुसाद म्यूजियम शुरू, लगाए जाएंगे 50 पुतले

भारत में म्यूजियम की पहली शाखा दिल्ली में खुलेगी। ये मैडम तुसाद की 23वीं शाखा है।

दिल्ली: जून में होगा मैडम तुसाद म्यूजियम शुरू, लगाए जाएंगे 50 पुतले
नई दिल्ली. दुनिया भर में प्रसिद्ध मैडम तुसाद सेंटर अब भारत में भी खुलने जा रहा है। भारत का पहला मोम के पुतलों वाला मैडम तुसाद संग्राहलय दिल्‍ली में जून में खुलने जा रहा है। इस मैडम तुसाद सेंटर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अभिनेता अमिताभ बच्‍चन और अमेरिकन पॉप स्‍टार लेडी गागा समेत अन्‍य सितारों के मोम के पुतले लगाए जाएंगे।
बता दें कि गुरुवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में इंटरटेनमेंट ऑपरेटर इंटरटेनमेंट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के महाप्रबंधक अंशुल जैन ने बताया कि जून में शुरू होने जा रहे इस म्यूजियम में पहले 50 से अधिक विभिन्न क्षेत्रों की शख्सियतों के पुतले लगाये जाएंगे। जिसमें अमिताभ बच्चन, शाहरुख़ खान सचिन तेंदुलकर के मोम के पुतलों के आलावा देश के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी शामिल होगा। इस दौरान दर्शक न केवल इन पुतलों को न केवल फोटो खींच सकेंगे छू भी सकेंगे। इसके टिकट शुल्क भी मनोरंजन की अन्य गतिविधियों के लगभग बराबर ही होने की सम्भावना है।
ऑपरेशन की जिम्मेदारी ब्रिटिश फर्म मर्लिन एंटरटेनमेंट्स के पास है। इंडियन यूनिट के डायरेक्टर अंशुल जैन ने बताया कि अमिताभ बच्चन ओपनिंग में शामिल होंगे। बता दें कि 20 इंटरनेशनल और नेशनल आर्टिस्ट मोम के पुतले तैयार कर रहे हैं। हर पुतले को बनाने में 4 महीने का वक्त लगा। एक पुतले पर 1.5 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च आया।
लंदन की बेकर स्ट्रीट पर म्यूजियम को फेमस वैक्स आर्टिस्ट मेरी तुसाद ने 1836 में खोला था। बाद में इसकी ब्रांच सिंगापुर, हांगकांग और बैंकॉक में भी शुरू की गई। यहां महात्मा गांधी, विंस्टन चर्चिल, नेल्सन मंडेला, नरेंद्र मोदी, बराक ओबामा, डेविड कैमरन, एंगेला मर्केल कई हस्तियों के भी स्टैचू रखे गए हैं। लंदन के वैक्स म्यूजियम के आर्टिस्ट्स और एक्सपर्ट्स की एक टीम पिछले साल दिल्ली आई थी। इसने 2 घंटे तक पीएम का मेजरमेंट लिया था।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top