Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: अपोलो अस्पताल में किडनी तस्करों का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कहा कि ये लोग कथित तौर पर किडनी बेचने का काम करते थे।

दिल्ली: अपोलो अस्पताल में किडनी तस्करों का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने एक बड़े किडनी रैकेट का पर्दाफाश किया है। दिल्ली के सरिता विहार थाने की पुलिस ने किडनी बेचने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और करीब 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है। ये लोग कथित तौर पर किडनी बेचने का काम करते थे। साउथ ईस्ट दिल्ली के सरिता विहार स्थित अपोलो हॉस्पिटल में किडनी रेकेट के मामले में खुलासा होने के बाद दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया है।
पुलिस ने इस मामले में अब तक असीम, आशु और देवाशीष नामकर आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि तीन और लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है। इन तीन लोगों के अलावा पुलिस दिल्ली के जाने माने अपोलो हॉस्पिटल के 2 कर्मचारियों से भी इस मामले में पूछताछ कर रही है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में देवाशीष और असीम कलकत्ता का रहने वाले हैं जबकि आशु कानपुर का निवासी है।
दिल्ली पुलिस के साउथ इस्टर्न रेंज के जॉइंट सीपी के मुताबिक अपोलो अस्पताल की भूमिका भी इस रैकेट में हैं। अस्पताल के दो क्लिनिकल स्टाफ से पूछताछ चल रही है जिनकी जल्द गिरफ्तारी हो सकती है। अस्पताल के कुछ डॉक्टर भी रडार पर हैं। 4-5 लाख में जरूरतमंद अपनी किडनी बेचते थे इनके पास जिनको ये आगे 20-25 लाख में बेच देते थे।
बता दें कि खास बात ये है कि जैसे जैसे किडनी रैकेट की जांच आगे बढ़ रही है इसके तार दिल्ली के साथ साथ सिर्फ देशभर में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी फैले मिल रहे हैं। अब तक की जांच में ये साफ हो चुका है कि इस किडनी रैकेट के तार दिल्ली के अलावा पंजाब, कोयम्बटूर से लेकर श्रीलंका तक पहुंचे हुए हैं। जिन तीन लोगों को हिरासत मे लेकर दिल्ली पुलिस पूछताछ कर रही है वो तीनो तीनों किडनी डोनर हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top