Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जेएनयू इलेक्शन: लेफ्ट गठबंधन ने सभी चारों सीटें जीतीं

इस बार एबीवीपी का खाता नहीं खुला।

जेएनयू इलेक्शन: लेफ्ट गठबंधन ने सभी चारों सीटें जीतीं
नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुए छात्रसंघ चुनाव में लेफ्ट यूनिटी ने अपना परचम लहराते हुए चारों सीटों पर अपनी जीत दर्ज कर ली है। शनिवार रात को घोषित नतीजों के मुताबिक, अध्यक्ष पद पर मोहित कुमार पांडेय, वाईस प्रेजिडेंट पड़ पर अमल पीपी, तबरेज हसन जॉइंट सेक्रेटरी उर सतरूपा चक्रवर्ती को जनरल सेक्रेटरी पद पर जीत मिली है।
एबीवीपी के लोगों ने इस बार कैंपस में कथित रूप से 9 फरवरी को लगे देश विरोधी नारों को मुद्दा बनाया था। परिणाम स्वरुप एबीवीपी को जॉइंट सेक्रेटरी का पद जो उसने पिछली बार जीता था उसे भी गवानी पड़ी। इस बार एबीवीपी का खाता नहीं खुला। अगर इस लिहाज से देखा जाये तो एबीवीपी को फायदे के बजाय नुकसान ही हुआ है।
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, जेएनयू छात्र संघ चुनाव में पिछले वर्ष 53.3 प्रतिशत मतदान हुआ था और विश्वविद्यालय परिसर में इस वर्ष सामने आए विवादों के मद्देनजर चुनाव को दिलचस्प माना जा रहा था।
इस बार जेएनयू में ऑल इंडिया स्टूडेंट असोसिएशन और स्टूडेंट फेडेरशन ऑफ इंडिया ने लेफ्ट यूनिटी के नाम पर चुनाव लड़ा था। हालाँकि, कुछ साल पहले बने संगठन 'बपसा' ने इस बार लेफ्ट को कड़ी टक्कर दी। बपसा से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार राहुल पुनराम दूसरे नंबर पर रहे।
प्रेजिडेंट के पद पर जीत हासिल करने वाले मोहित कुमार पाण्डेय ने कहा, 'जेएनयू का रिजल्ट पूरे देश के लिए एक सन्देश है। लेफ्ट संगठनों ने एबीवीपी को कैंपस से उखाड़ फेंका है। लड़ाई सिर्फ दो प्रोग्रेसिव संगठनों के बीच थी जो कि हमेशा होती रही है और हमेशा चलती रहेगी। इस लड़ाई में एबीवीपी कहीं नहीं थी।'
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top