Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पेरिस अटैक: इंडिया गेट पर कर रहे थे ISIS का विरोध, दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

गिरफ्तार छात्रों ने इसे लोकतांत्रिक अधिकार का हनन बताया है।

पेरिस अटैक: इंडिया गेट पर कर रहे थे ISIS का विरोध, दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार
नई दिल्ली. पेरिस में हुए हमलों का शिकार हुए लोगों के लिए आईसा द्वारा शुक्रवार शाम इंडिया गेट पर शांतिपूर्ण कैंडल मार्च का आयोजन किया गया। कैंडल मार्च शुरू होते ही पुलिस ने छात्रों को हिरासत में ले लिया और कैंडल मार्च नहीं होने दिया। शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे छात्रों को दिल्ली पुलिस करीब 20 लोगों को बसों में बैठाकर तिलक मार्ग पुलिस स्टेशन ले गई।
इस मामले में छात्रों ने कहा कि यह हमारे लोकतांत्रिक अधिकार का हनन है। शांतिपूर्ण तरीके से किए जा रहे कैंडल मार्च को भी पुलिस द्वारा जबरन रोका गया। कैंडल मार्च में शिरकत करने पहुंचे छात्रों ने कहा कि हमारे देश में लोकतंत्र की मिसाल दी जाती है, लेकिन आज एकबार फिर यह गलत साबित हुआ है और कैंडल मार्च को रोककर लोकतंत्र पर चोट की गई है।
आईसा प्रदेश अध्यया अनमोल रतन ने हिरासत में होने के बावजूद कहा कि हमें आतंकवाद और धार्मिक कट्टरवाद के सभी रूपों के खिलाफ चल रही लड़ाई में स्पष्ट होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि आइसा पेरिस और बेरूत हमलों की निंदा करता है।
इस मामले में दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि पेरिस हमले के बाद दिल्ली समेत देश के सभी बड़े महानगरों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। इन लोगों को वहां से सुरक्षा के मद्देनजर हटाया गया था।
पेरिस अटैक के बाद, इंटेलीजेंस एजेंसियों ने शनिवार को सुरक्षा के मद्देनजर एडवाइजरी जारी करते हुए सभी प्रमुख एयरपोर्ट और बंदरगाह पर अतिरिक्त चौकसी बरतने को कहा है। जिसके बाद पुलिस मुख्यालय में इमरजेंसी मीटिंग हुई।
फ्रांस दूतावास के अलावा सभी प्रमुख दूतावासों के सुरक्षा घेरे को बढ़ा दिया गया है। फ्रांस दूतावास में दोपहर को एक इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई, जिसमें दिल्ली पुलिस के टॉप लेवल अफसर भी मौजूद थे।
नीचे की स्लाइड्स में देखिए, छात्रों का शांतिपूर्ण प्रदर्शन से गिरफ्तारी तक का सफर-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे फेसबुक पेज फेसबुक हरिभूमि को, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर -
Next Story
Top