Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चीन से लगी सीमा पर ड्रैगन की चाल को भांपेंगे भारतीय छात्र

यह छात्र केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय के 11वीं कक्षा के हैं।

चीन से लगी सीमा पर ड्रैगन की चाल को भांपेंगे भारतीय छात्र
नई दिल्ली. भारतीय सेना के कामकाज के बारे में देश की युवा आबादी को जागरूक करने के लिए रवाना हुआ स्कूली छात्रों का दल बृहस्पतिवार को धारचूला (उत्तराखंड) पहुंच रहा है। यहां सेना की तमाम गतिविधियों के बारे में बच्चों को विस्तार से जानकारी दी जाएगी। दरअसल छात्रों के सीमा भ्रमण की यह योजना केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा तैयार की गई है, जिसमें रक्षा मंत्रालय सहयोग प्रदान कर रहा है। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक इस बार 56 बच्चों को चीन से लगी सीमा के दो इलाकों का दौरा कराया जाएगा। दल को दो भागों में बांटा गया है। प्रत्येक में 28 छात्र हैं। यह छात्र केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय के 11वीं कक्षा के हैं।
बच्चों में राष्ट्रवाद और देशभक्ति की भावना को बढ़ावा
सूत्र ने कहा कि छात्रों के समूह को धारचूला और नाथुला की ओर 14 जून को रवाना किया गया था। इसमें धारचूला 16 जून और नाथुला 17 जून को छात्र पहुंचेंगे। इस दौरान दोनों स्थानों पर मौजूद अधिकारी छात्रों को सेना के स्कूल और उसमें चलने वाली तमाम गतिविधियों से रूबरू कराएंगे, सीमा के बारे में बताएंगे और सीमा से सटे स्थानीय इलाकों के बारे में भी जानकारी देंगे। इसके अलावा बच्चों में राष्ट्रवाद और देशभक्ति की भावना को बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।
धारचुला चीन से लगी केंद्रीय सीमा का हिस्सा
गौरतलब है कि स्कूली छात्रों का यह भ्रमण एचआरडी मंत्रालय की सीमा दर्शन नामक योजना के जरिए शुरू किया गया है। इसी के जरिए बीते जनवरी में छात्रों को जम्मू-कश्मीर और पंजाब में पाकिस्तान से लगी सीमाओं का भ्रमण कराया गया था। यह कार्यक्रम पांच दिन का था जिसकी शुरूआत 22 जनवरी को हुई थी। इसकी सफलता को देखते हुए मंत्रालय ने गर्मियों में एक बार फिर बच्चों के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया है। बच्चों के साथ केवी और एनवी के अध्यापक भी शामिल होंगे। नाथुला और धारचुला चीन से लगी देश की सीमा के दो महत्वपूर्ण इलाके हैं। दोनों पर सेना की कड़ी निगरानी रहती है। धारचुला चीन से लगी केंद्रीय सीमा का हिस्सा है और उत्तराखंड में स्थित है और नाथुला पूर्वी सीमा का हिस्सा है और सिक्किम में स्थित है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top