Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सूखे की मार से जूझ रहा आधा भारत, एक दशक में सबसे नीचे गिरा जलस्तर!

जलाशयों का यह जल स्तर पिछले दस वर्ष में सबसे न्यूनतम दर्ज किया गया है।

सूखे की मार से जूझ रहा आधा भारत, एक दशक में सबसे नीचे गिरा जलस्तर!
नई दिल्ली. सूखे और जल संकट से जूझ रहे आधे भारत में जल भंडारण के लिए केंद्रीय जल आयोग की निगरानी में देश के 91 प्रमुख जलाशयों का जल स्तर गिरकर 26.816 अरब घर मीटर यानि बीसीएम आंका गया है, जो पिछले एक दशक में सबसे निचले स्तर पर आ चुका है।
मसलन एक माह में ही इन जलाशयों का भंडारण स्तर 7.266 अरब घन मीटर गिर चुका है। केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट में देश के प्रमुख 91 जलाशयों में 26.816 अरब घन मीटर यानि बीसीएम जल का संग्रहण आंका गया। जो इन जलाशयों की कुल संग्रहण क्षमता का मात्र 17 प्रतिशत है। बताया गया है कि जलाशयों का यह जल स्तर पिछले दस वर्ष में सबसे न्यूनतम दर्ज किया गया है।
भले ही देश में जल संकट से निपटने के लिए मोदी सरकार विभिन्न राज्यों में कुएं और तालाब खोदने, भूजल स्तर को सुधारने जैसी परियोजनाओं को पटरी पर उतारने का दावा कर रही हो, लेकिन मराठवाड़ा और बुंदेलखंड जैसे कई इलाकों समेत देश के कम से कम 18 राज्यों में पीने तक के पानी की कमी से दो-चार होना पड़ रहा है। हालांकि केंद्र सरकार ने जल संकट से निपटने के लिए जल प्रबंधन हेतु 168 प्रतिशत की वृद्धि करके 12,517 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। इसके अलावा देश में गिरते भूजल के स्तर को सुधारने के लिए छह हजार करोड़ रुपये अलग से आवंटित किये हैं, जिसमें कुएं और तालाब खोदने की योजना का खाका तैयार किया गया है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top