Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में दिखाई दिया स्मार्ट हरियाणा

व्यापार मेले में इस वर्ष प्रधानमंत्री मोदी के दृष्टिकोण ''''मेक इन इंडिया'''' को प्रभावी ढंग से प्रदर्शित किया गया है।

भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में दिखाई दिया स्मार्ट हरियाणा
नई दिल्ली. हरियाणा सरकार द्वारा पिछले एक साल में बेटी-बचाओ-बेटी पढ़ाओ, नई औद्यौगिक नीति, व डिजिटल हरियाणा समेत सभी जनहित के महत्वपूर्ण निर्णयों की झलक को 35वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में हरियाणा मंडप में स्पष्ट दिखाया गया है। शनिवार को हरियाणा के मुख्य सचिव डी.एस.ढेसी ने प्रगति मैदान पहुंचकर हरियाणा मंडप का अवलोकन किया तथा मंडप में प्रदर्शित उत्पादों को देखा।
मंडप में मुख्य रूप से 'मेक इन इंडिया' 'मेक इन हरियाणा' शीर्षक के तहत दर्शाई गई औद्योगिक प्रगति के संबंध में जानकारी हासिल की। हरियाणा मंडप में प्रदर्शित स्किल इंडिया, स्वच्छ हरियाणा-स्वच्छ भारत, डिजिटल इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, म्हारा गांव जगमग गांव व नई उद्यम प्रोत्साहन नीति-2015 के मॉडल भी आकर्षण का केंद्र बने हैं।
वहीं मुख्य सचिव ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का भी दिलचस्पी के साथ अवलोकन किया। मंडप में उन्होंने प्रदर्शित सोलर लाइट तथा एलईडी बल्बों के स्टॉलों को भी देखा। इस मौके पर मुख्य सचिव ढेसी ने कहा कि मंडप में हरियाणा महिला उद्यमियों के विभिन्न उत्पादों को व्यापक स्तर पर प्रदर्शित किया गया है।
उन्होंने कहा कि भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में इस वर्ष प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण 'मेक इन इंडिया' को प्रभावी ढंग से प्रदर्शित किया गया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा पिछले एक वर्ष में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, स्वच्छ भारत, स्वच्छ हरियाणा, प्रदेश के प्रत्येक जिले में महिला पुलिस स्टेशन तथा नवजात बच्चे के जन्म पर ही आधार कार्ड पंजीकरण आदि ऐसे अनेक फैसले हैं जो जनहित में शुरू किए गए हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश देश का पहला राज्य है जहां नवजात शिशुओं का भी आधार पंजीकरण किया जा रहा है। मुख्य सचिव के साथ स्थानीय आयुक्त आनंद मोहन शरण, हरियाणा व्यापार मेला के प्रशासक श्यामल मिश्रा भी उपस्थित थे।
स्मार्ट सिटी का मॉडल
उन्होंने मंडप में प्रदर्शित किए गए स्मार्ट सिटी मॉडल के संदर्भ में कहा कि भारत सरकार के मापदंड के अनुरूप राज्य में फरीदाबाद व करनाल को स्मार्ट सिटी में शामिल किया गया है, लेकिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एक कदम और बढ़ाते हुए राज्य की ओर से गुडगांव को भी स्मार्ट सिटी बनाने का निर्णय लिया है।
सभी फोटो- छत्र सिंह
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे फेसबुक पेज फेसबुक हरिभूमि को, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर -
Next Story
Top