Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जेल में गैंगवार, तिहाड़ प्रशासन पर उठे सवाल, मामले की जांच के लिए जुटी तीन टीमें

जेल सूत्रों का कहना है कि कैदी अंदर ही हथियार बनाते है।

जेल में गैंगवार, तिहाड़ प्रशासन पर उठे सवाल, मामले की जांच के लिए जुटी तीन टीमें

नई दिल्ली. तिहाड़ जेल में बंद कुख्यात नीरज बावनिया अब जेल के अधिकारियों के लिए सिरदर्द साबित हो रहा है। सूत्रों की माने तो बुधवार दोपहर तिहाड़ में बंद दो गुटों के बीच हुई खूनी झड़प की स्क्रिप नीरज बावानिया द्वारा तैयार की गई थी। बवानिया के इशारे पर ही अनिल गुट के सदस्यों ने ईश्वर गुट पर हमला कर दिया और इसका फायदा उठाकर कुछ अन्य कैदियों ने दोनों गुटों के सदस्यों की जमकर पिटाई कर दी। जिससे दोनों गुटों के मुखिया अनिल और ईश्वर की मौत हो गई। फिलहाल मामले में नीरज बवानिया की भूमिका को लेकर जांच शुरू हो गई है।

ये भी पढ़ें : उस्ताद गुलाम अली को दिल्ली का न्योता

यह कैसी सुरक्षा

एशिया की सबसे सुरक्षित कहीं जाने वाली तिहाड़ जेल में कोई सूई तक नहीं ले जा सकता। बावजूद इसके कैदी लोहे की रॉड तेजधार हथियार से एक दूसरे पर हमला करते है। ऐसे में जेल सूत्रों का कहना है कि कैदी अंदर ही हथियार बनाते है। जेल प्रशासन की माने तो प्रत्येक कैदी पर सीसीटीवी से निगरानी रखी जाती है। अगर प्रशासन कैदियों पर निगरानी रखता है तो वह हथियार कैसे बना लेते है? क्या जेल प्रशासन कुख्यात बदमाशों से मिले हुए है? ऐसे कई बड़े सवाल जेल प्रशासन के समक्ष है। सूत्रों की माने तो हमले के समय ईश्वर गुट के सदस्यों को सिक्योरिटी के बीच लेकर डिस्पेंसरी ले जाया गया था। जहां से लाते समय उन पर हमला हुआ था। ऐसे में कैदियों की सिक्योरिटी में लगे जवानों ने तुरंत ही कार्रवाई करते हुए कैदियों को रोका क्यों नहीं?

ये भी पढ़ें : सोमनाथ भारती को मिली सशर्त जमानत, बिना इजाजत नहीं जा सकते देश के बाहर


जेल में पहले भी हुई हैं हत्याएं

9 अप्रैल 15: तिहाड़ जेल संख्या-8 में साथी कैदियों ने चाकू से गोदकर रविंद्र की हत्या की थी

11 मई 15: तिहाड़ जेल में वर्चस्व को लेकर कैदी को चाकू मारा

7 अक्ट्बर 15: तिहाड़ जेल में वर्चस्व को लेकर दो गुट भिड़े, दो की मौत

17 सितंबर 14: तिहाड़ जेल संख्या-1 में तेजधार हथियार से हमला कर 22 वर्षीय सलमान की हत्या

25 अप्रैल 14: तिहाड़ के अंतर्गत आने वाली रोहिणी जेल में भी तीन कैदियों ने मिलकर चाकू से की थी जसविंदर की हत्या।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, मांगी थी सुरक्षा -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top