Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आतंकियों को फर्जी पासपोर्ट दिलाने वाला संदिग्ध युवक गिरफ्तार

आरोपी की पहचान शइक नूर उर्फ नूर अल हल के रूप में हुई है।

आतंकियों को फर्जी पासपोर्ट दिलाने वाला संदिग्ध युवक गिरफ्तार

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने आतंकवादियों को पनाह एवं उनके फर्जी पासपोर्ट बनवाने में मदद करने वाले म्यांमार के संदिग्ध नागरिक को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान शइक नूर उर्फ नूर अल हल के रूप में हुई है। नूर पिछले 40 सालों से अवैध तरीके से भारत में रहा था। हुजी और आईएम से उसके तार जुड़े होने का अंदेशा है। सीआईए और हैदराबाद पुलिस ने नूर के राजधानी में होने की सूचना क्राइम ब्रांच को दी थी।

आरोपी के नकली नोटों की तस्करी के धंधे में भी शामिल होने का खुलासा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार हैदराबाद पुलिस ने 14 अगस्त को आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इसमें पाकिस्तान का मोहम्मद नासिर और नूर का रिश्तेदार जैनूल आबेदिन (बांग्लादेशी नागरिक) भी शामिल था।
अब्दुल नासिर का पाक अधिकृत कश्मीर स्थित आतंकवादी संगठन से जुड़े अब्दुल जब्बार से संबंध पाए गए थे। अब्दुल ने पूछताछ में बताया कि वह नूर की मदद से भारत से बाहर जाने की फिराक में था। नूर आतंकी गतिविधियों में लिप्त लोगों के लिए फर्जी पासपोर्ट मुहैया कराने का काम करता है।
सूचना पर डीसीपी भीष्म सिंह के नेतृत्व वाली टीम ने 21 अगस्त को नूर को जाकिर नगर से दबोच लिया। पूछताछ में नूर ने बताया कि जब वह 15 साल की उम्र में बर्दमान आया था। पांच साल बाद दिल्ली आया और सराय काले खां इलाके में रहने लगा।
इसी दौरान उसने नमाजी टोपी बेचने का धंधा शुरू किया और इसी के पीछे हुजी एवं अन्य आतंकवादी संगठनों को सहायता मुहैया कराने लगा।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, पूरी खबर-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top