Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डूसू चुनाव: ABVP को करारा झटका, दो बड़ी सीटें NSUI की झोली में

NSUI के अगले अध्यक्ष होंगे रॉकी तुसीद।

डूसू चुनाव: ABVP को करारा झटका, दो बड़ी सीटें NSUI की झोली में

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के लिए मंगलवार को हुए मतदान के बाद बुधवार को हुई मतगणना में एबीवीपी को करारा झटका लगा है, वहीँ एनएसयूआई के रॉकी तुसीद ने अध्यक्ष पद पर जीत दर्ज करते हुए एबीवीपी के रजत चौधरी को हराया है। उपाध्यक्ष पद पर एनएसयूआई के कुनाल सहरावत ने जीत हासिल की है। जबकि वहीं ABVP ने ज्वाइंट सेकेट्ररी और सेकेट्ररी पद पर कब्जा किया है।

गौरतलब है कि डीयू के नॉर्थ साऊथ कैंपस सहित अन्य कॉलेजों के बाहर कड़ी सुरक्षा के बीच छात्रों ने वोट डाले गए थे। हालांकि कुछ कॉलजों में वोट के लिए छात्राए कम दिखाई दी। चुनाव के दौरान झगड़े की आशंका को देखते हुए दिल्ली पुलिस के जवान मुस्तैदी के साथ डयूटी पर दिखाई दिए।

इसे भी पढ़ें: DUSU चुनाव के लिए खत्म हुई वोटिंग

सुबह से ही कॉलेजों के बाहर छात्र मतदान करने पहुंचने लगे थे। हालांकि इस बार डूसू चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से पूरे हो गए। एबीवीपी और एनएसयूआई दोनों अपनी अपनी जीत का दावा कर रहे हैं। अब ये तो चुनाव नतीजे से ही पता चलेगा कि बाजी किसके हाथ लगेगी।

51 कॉलेजों में हुआ मतदान

गौरतलब है कि डीयू में कुल 81 कॉलेज हैं जिनमें से लगभग 51 कॉलेजों में मतदान किया जाता है। डीयू में मंगलवार को मतदान के कारण सुबह की पाली में लगने वाले कॉलेजों में एक बजे तक और शाम की पाली वाले कॉलेजों में साढ़े सात बजे तक मतदान हुआ। डीयू के चुनाव अधिकारी का कहना है कि सुबह तक सभी कॉलेजों में 44 प्रतिशत मतदान हुआ है। बता दें कि शाम की पाली वाले कुल 10 कॉलेज हैं, यहां देर शाम तक मतदान होता रहा।

डीयू के सभी कॉलेजाें में आते रहे छात्र

डूसू व कॉलेज चुनावों को लेकर डीयू के अधितकर कॉलेजों में भीड़ रही। नॉर्थ और साऊथ कैंपस हो या पूर्वी दिल्ली या बाहरी दिल्ली स्थित डीयू के कॉलेज सभी जगह मतदान करने के लिए छात्र अपने दोस्तों के साथ पहुंचते रहे। मतदान करने के लिए छात्र अपना आईकार्ड या फीस स्लीप लेकर पहुंचे। कॉलेज के बाहर पुलिस की बैरिकेडिंग और पुलिस बल भारी संख्या में तैनात रहा।

वहीं मतदान करके आ रहे छात्रों को बाहर निकलने के बाद कॉलेज के बाहर खड़े रहने की अनुमति नहीं थी। ऐसे में पुलिस बल लगातार छात्रों को हटाता रहा। वहीं मतदान को लेकर डीयू चुनाव अधिकारी एसबी बब्बर ने बताया कि डीयू में इस बार अच्छा मतदान हुआ है। उन्होंने बताया कि सुबह की पाली वाले कॉलेजों में कुल 248 ईवीएम मशीनें लगाई गई थीं।

काउंसलर पदों के लिए आते रहे नतीजे

डीयू के कॉलेजाें में मंगलवार को न सिर्फ डूसू पैनल के लिए वोट डाले गए बल्कि कॉलेज काउंसलर के पदों पर भी मतदान किया गया। इस दौरान कई छात्रों ने अपने पसंदीदा उम्मीदवार को वोट देकर विजयी बनाया। वहीं एक बजे मतदान खत्म होने के साथ ही कई कॉलेजों में काउंसलर पदों का रूझान सामने आने लगा था। रूझान आते ही समर्थकों ने ढ़ोल बाजे और आतिशबाजी फोड़ते हुए अपनी जीत का जश्न मनाया।

एसआरसीसी, खालसा कॉलेज, जाकिर हुसैन आदि जगहों पर रूझान आते ही समर्थकों ने खुशी मनाना शुरू कर दिया था। जाकिर हुसैन कॉलेज में जहां काउंसलर के सभी पदों पर एबीवीपी ने जीत दर्ज की वहीं श्यामलाल कॉलेज में अध्यक्ष पद पर शुभम मलिक, उपाध्यक्ष कशीश, आदि शामिल हैं। वहीं नॉर्थ कैंपस स्थित एसजीबीटी खालसा कॉलेज में कुलविंदर कौर, सेंट्रल काउंसलर पद पर दीपक चौबे ने जीत दर्ज की है।

खालसा कॉलेज में दीपक सबसे अधिक वोट हासिल करने वाले उम्मीदवार बने हैं। वहीं पूर्वी दिल्ली स्थित विवेकानंद कॉलेज में अध्यक्ष पद पर प्रियंका गुप्ता, उपाध्यक्ष विशाखा देशवाल को चुना गया। इनके अलावा रामजस कॉलेज में आशीष ने अध्यक्ष पद पर कब्जा जमाया है। भगिनी निवेदिता, हिंदू, विवेकानंद और जाकिर हुसैन कॉलेज में एबीवीपी के पैनल ने जीत दर्ज की है।

कॉलेजों में 14 से 65 फिसदी वोट पड़े

डीयू में अलग अलग काॅलेजों में वोटिंग का प्रतिशत भिन्न रहा। आर्यभट्ट कॉलेज- 14, श्रद्धानंद कॉलेज - 45, भगिनी निवेदिता -35, अदीति महाविद्यालय-30, किरोडीमल-36, रामजस- 50, श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज- 28, रामानुजन में 26 प्रतिशत, श्यामलाल कॉलेज - 45, एआरएसडी- 53, हिंदू में 65, राजधानी में 56, एसआरसीसी में 58, शहीद भगत सिंह में 30, कैंपस आॅफ लॉ सेंटर 57 फिसदी मतदान डाले गए।

भगत सिंह कॉलेज में खराब हुई ईवीएम

दक्षिणी दिल्ली में स्थित शहीद भगत सिंह कॉलेज में ईवीएम खराब होने का मामला भी सामने आया। ईवीएम में कुछ तकनीकी खराबी के कारण कॉलेज में मतदान करीब आधे घंटे देरी से शुरू हुआ। बाद में ऐसी कोई परेशानी नहीं हुई।

24 प्रत्याशी मैदान में

डूसू चुनाव में इस बार कुल 24 प्रत्याशी मैदान में हैं। इनमें अध्यक्ष पद के लिए 10, उपाध्यक्ष के लिए 5, सचिव के लिये 5 व सहसचिव पद के लिए 4 उम्मीदवार शामिल हैं। चुनावों में हालांकि मुकाबला एनएसयूआई और एबीवीपी के बीच बताया जा रहा है, लेकिन वामपंथी संगठन आइसा और एसएफआई भी अपनी दावेदारी पेश करते दिखे।

आज होगी मतगणना

डीयू में डूसू पैनल को लेकर मतगणना आज बुधवार को होगी। डूसू चुनाव के नतीजों के लिए सुबह साढ़े आठ बजे से किंग्जवे कैंप स्थित पुलिस लाइन के कम्यूनिटी सेंटर में मतगणना की जाएगी। हालांकि पहले मतगणना को लेकर काफी संशय था, लेकिन उच्च न्यायालय के आदेश के बाद साफ हो गया है कि मतगणना आज होगी। मतगणना के बाद डूसू पैनल के विजेताओं का नाम घोषित हो जाएगा।

Next Story
Top