Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

DU-JNU छात्र चुनाव, कन्हैैया की पार्टी मैदान से बाहर

जेएनयू के सेंट्रल पैनल में 4 सीटों पर 18 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं

DU-JNU छात्र चुनाव, कन्हैैया की पार्टी मैदान से बाहर
नई दिल्ली. दिल्ली में आज (शुक्रवार) छात्र चुनाव का दंगल देखने को मिल रहा है। दरअसल जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी और दिल्ली यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ चुनाव के लिए आज मतदान हो रहा है। डीयू के सेंट्रल पैनल में जहां चार सीट के लिए 17 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। वहीं जेएनयू के सेंट्रल पैनल में 4 सीटों पर 18 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।
जेएनयू में शुक्रवार सुबह साढ़े नौ बजे से वोटिंग शुरू हुई जो शाम साढे पांच बजे तक चलेगी। जबकि रात 9 बजे के बाद वोटों की काउंटिंग की जाएगी। चुनाव के परिणाम 12 सितंबर को घोषित किए जाएंगे। वहीं, डीयू छात्रसंघ के उम्मीदवारों की जीत का ऐलान 10 सितंबर को होगा।
गठबंधन के तहत आइसा ने जहां अध्यक्ष पद और जॉइंट सेक्रेटरी पद पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं तो एसएफआइ को वाइस प्रेसिडेंट और महासचिव की पोस्ट पर लड़ने का मौका मिला है। इसके अलावा जेएनयू में काउंसलर की 31 सीटों पर चुनाव लड़ रहे 79 उम्मीदवारों के लिए भी आज ही वोटिंग की जाएगी।
जेएनयू में इस बार पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार का संगठन AISF चुनाव में हिस्सा नहीं ले रहा है और वो लेफ्ट संगठनों के उम्मीदवारों का समर्थन कर रहा है। दूसरी तरफ लेफ्ट संगठन आइसा और एसएफआइ दोनों साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं।
जेएनयू छात्रसंघ के लिए 8600 वोटर उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे। जेएनयू छात्रसंघ के सैंट्रल पैनल में प्रेसिडेंट पद के लिए आइसा से मोहित कुमार पांडे, एबीवीपी से जाहन्वी ओझा, अंबेडकरवादी छात्र संगठन बापसा (BAPSA) से राहुल पुनरम, एनएसयूआइ से सन्नी धीमान और स्टूडेंट्स फेडरेशन फॉर स्वराज (SFS) से दिलीप कुमार मैदान में हैं।
दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ अध्यक्ष पद के लिए एबीवीपी से अमित तंवर, एनएसयूआइ से निखिल यादव, आइसा के कवलप्रीत कौर और एसएफआइ से नवजीत पूनिया मैदान में हैं। डीयू छात्रसंघ के लिए इस बार कुल एक लाख 24 हजार मतदाता हैं और वोटिंग के लिए 300 ईवीएम मशीन का इस्तेमाल किया जाएगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top