Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिंदू लड़की ने जताई IS में शामिल होने की इच्छा, पिता ने मांगी NIA से मदद

रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट यह युवती तीन साल पहले पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए ऑस्ट्रेलिया गई थी।

हिंदू लड़की ने जताई IS में शामिल होने की इच्छा, पिता ने मांगी NIA से मदद
नई दिल्‍ली. आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट (आईएस) की बर्बरता और क्रूरता की खबरें तकरीबन हर दिन सुर्खियां बन रही हैं और इसकी करतूतों ने पूरी दुनिया को झंकझोर कर रख दिया है। अब एक ऐसा मामला सामने आया है, जिससे देश चौंक उठा है।
मीडिया में सामने आई कुछ रिपोर्टों के अनुसार, इस्लामिक स्टेट में दिल्ली यूनिवर्सिटी की एक पूर्व छात्रा के शामिल होने की इच्छा जताने का सनसनीखेज खुलासा हुआ है। डीयू की यह पूर्व छात्रा हिंदू परिवार से ताल्लुक रखती है, जबकि पिता भारतीय सेना में अधिकारी रह चुके हैं। रिपोर्ट के अनुसार, खुफिया एजेंसी आईबी के अधिकारी बीते कई दिनों से उक्‍त लड़की को इस्लामिक स्टेट में शामिल नहीं होने के लिए समझा रहे हैं।
वे इस लड़की को यह समझाने में कई सप्ताह से लगे हुए हैं कि आईएस में शामिल होना सही बात नहीं है। गौर हो कि 25 वर्षीय इस हिंदू युवती के पिता भारतीय सेना के रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल हैं। रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट यह युवती तीन साल पहले पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए ऑस्ट्रेलिया गई थी। वहां रहकर उसने अपनी पढ़ाई पूरी की, लेकिन जब वह वापस अपने घर लौटी तो उसमें परिजनों को काफी बदलाव देखने को मिले।
आईबी सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि युवती के पिता ने ही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से संपर्क कर अपनी बेटी की संदिग्ध गतिविधियों के बारे में सूचना दी थी। उन्होंने एनआईए से बेटी की काउंसिलिंग करने व उसकी कट्टरता को दूर करने के लिए मदद मांगी है। मामले की जानकारी के बाद से ही एनआईए और आईबी एक-दूसरे के संपर्क में बने हुए हैं। आईबी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न उजागर करने की शर्त पर इस खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि कुछ माह पहले युवती के पिता ने बेटी के कंप्यूटर पर आईएस से संबंधित कुछ सामग्री देखी।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top