Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डीयू की फर्स्ट कट ऑफ आउट, 2 जुलाई तक ले सकते हैं एडमिशन

इस साल यूनिवर्सिटी केवल पांच कट ऑफ लिस्ट निकालेगी।

डीयू की फर्स्ट कट ऑफ आउट, 2 जुलाई तक ले सकते हैं एडमिशन
नई दिल्ली. दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) में एडमिशन के लिए बुधवार देर शाम को पहली कट ऑफ लिस्ट जारी कर दी गई। पिछले कई वर्षों से लगातार डीयू का कट ऑफ 100 फीसदी को छू रहा था, लेकिन इस साल उच्चतम कट ऑफ में थोड़ी कमी आई है। इस बार उच्चतम कट ऑफ रामजस कॉलेज में बी. कॉम ऑनर्स में एडमिशन के लिए 99.25 फीसदी है। इसके बाद एसजीटीबी खालसा कॉलेज में इलेक्ट्रॉनिक्स में बी.एससी ऑनर्स के लिए 99 फीसदी है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल रामजस कॉलेज में बी. कॉम (ऑनर्स) में एडमिशन के लिए कट ऑफ 97.75 फीसदी था तो वहीं एसजीटीबी खालसा कॉलेज में इलेक्ट्रॉनिक्स में बी.एससी ऑनर्स के लिए कट ऑफ 96.33 फीसदी था। उधर, खालसा कॉलेज में दूसरे विषयों में एडमिशन के लिए कट ऑफ इस साल बढ़ गया है। इंग्लिश ऑनर्स के लिए कट ऑफ 96.5 फीसदी से बढ़कर 98.75 फीसदी, हिस्ट्री ऑनर्स के लिए कट ऑफ 95 फीसदी से बढ़कर 97.25 फीसदी, बी. कॉम के लिए कट ऑफ 96.5 फीसदी से बढ़कर 98.5 फीसदी हो गया है।

श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी) में इकोनॉमिक्स ऑनर्स के लिए कट ऑफ 98.25 फीसदी और बी. कॉम ऑनर्स के लिए कट ऑफ 98 फीसदी है। लेडी श्री राम कॉलेज (एलएसआर) के चार कोर्सेज के कट ऑफ पिछले साल के ही बराबर है। यहां इंग्लिश ऑनर्स के लिए कट ऑफ 98.25 फीसदी, इकोनॉमिक्स ऑनर्स के लिए 98 फीसदी, बी. कॉम ऑनर्स के लिए 98 फीसदी है। जर्नलिज्म में एडमिशन के लिए इस साल कट ऑफ में 1 फीसदी की कमी आई है। पिछले साल कट ऑफ 98.5 फीसदी था तो इस बार 97.5 फीसदी है।

साइंस सब्जेक्ट्स (मैथ्स,फिजिक्स और केमेस्ट्री) के कट ऑफ इस साल भी ज्यादा है। मैथ्स के लिए कट ऑफ 98.5 फीसदी, फिजिक्स के लिए 98.33 फीसदी और केमेस्ट्री के लिए 98.33 फीसदी है। पिछले साल कंप्यूटर साइंस में एडमिशन के लिए कट ऑफ 100 फीसदी तक पहुंच गया था, लेकिन इस बार लगभग सभी जगह कट ऑफ में गिरावट दर्ज की गई है। पीजीडीएवी कॉलेज में इसका कट ऑफ एक फीसदी गिरकर 98 पर अटका है।

इस साल एडमिशन के लिए सबसे ज्यादा आवेदन इंग्लिश ऑनर्स के लिए मिले। एसजीटीबी खालसा कॉलेज ने कट ऑफ में 2.25 फीसदी का इजाफा करते हुए इस बार इंग्लिश ऑनर्स के लिए 98.75 फीसदी कट ऑफ रखा है। एकेडमिक सेशन 2016-17 के लिए दाखिले गुरुवार से शुरू हो जाएंगे। स्टूडेंट्स पहली कट ऑफ लिस्ट के आधार पर 2 जुलाई तक दाखिला ले सकते हैं।

इस साल यूनिवर्सिटी केवल पांच कट ऑफ लिस्ट निकालेगी। डीयू इस बार भी अपने पुराने फॉर्मूले के आधार पर छात्रों को एडमिशन देगी। जिसमें छात्रों को किसी भी ऑनर्स में दाखिला लेने के लिए अपने 'बेस्ट ऑफ फोर' के अंकों को आधार बनाने पड़ेगा साथ इसमें एक अग्रेजी या फिर हिंदी भाषाई सब्जेक्ट और दो अन्य सब्जेक्ट के अंकों शामिल करना होगा।

दिल्ली यूनिवर्सिटी में पहली बार एडमिशन की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन हुई। इस साल एडमिशन के लिए आवेदन में 14 फीसदी की गिरावट आई। इस बार लगभग 2 लाख 50 हजार आवेदन आए थे तो वहीं पिछले साल करीब 3 लाख 20 हजार आवेदन आए थे।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top