Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डेंगू बचाव तैयारियों की जांच करेगी सीएजी, उपचार, जांच व कर्मियों की होगी पड़ताल

दिल्ली नगरपालिका परिषद और दिल्ली नगर निगम द्वारा उठाए गए ऐहतियाती उपायों की पड़ताल की जाएगी।

डेंगू बचाव तैयारियों की जांच करेगी सीएजी, उपचार, जांच व कर्मियों की होगी पड़ताल
X
नई दिल्ली. सूत्रों के मुताबिक कैग जांच में मच्छर जनित बीमारियों से निपटने के लिए दिल्ली सरकार और निगम प्रशासन-नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) और दिल्ली नगर निगम द्वारा उठाए गए ऐहतियाती उपायों की पड़ताल की जाएगी। इस साल बड़े स्तर पर डेंगू के फैलने से 28 लोगों की मौत हो चुकी है और ऐसी खबरें हैं कि सुविधाओं के अभाव में कई मरीजों को अस्पतालों से लौटा दिया गया। सूत्रों ने कहा कि कैग जांच में साफ-सफाई, छिड़काव, नालों और मेनहोल के रख-रखाव के लिए प्रयासों पर भी गौर किया जाएगा। अन्य चीजों में ऑडिट से अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों की तैयारियां तथा बीमारी के उपचार और जांच के लिए कर्मचारियों के प्रशिक्षण की भी पड़ताल की जाएगी।
इसके अलावा यह भी पता लगाया जाएगा कि निजी अस्पतालों को गरीब मरीजों का उपचार करने के संबंध में दिए गए निर्देश का पालन किया गया कि नहीं। दिल्ली सरकार ने इस शर्त पर निजी अस्पतालों को किफायती कीमतों पर जमीन दी थी है कि वह गरीब मरीजों को मुफ्त में या रियायती दर पर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराएंगे।
कैग की ओर से दिल्ली के स्वास्थ्य सचिव अमर नाथ को भेजे एक पत्र के मुताबिक सरकारी ऑडिटर बजटीय प्रावधानों और केंद्र-राज्य सरकारों की ओर से वक्त पर फंड रिलीज किए जाने, सूचना देने और निगरानी तंत्र सहित विभिन्न एजेंसियों के बीच समन्वय पर भी गौर करेगा। मच्छर जनित समस्या से निपटने में तैयारियों की कमी पर चिंतित राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) पहले ही केंद्र और दिल्ली सरकार को उन खबरों पर नोटिस जारी कर चुका है।
इनमें कहा गया था कि राष्ट्रीय राजधानी में अस्पतालों में भर्ती किए जाने से इनकार के बाद कथित तौर पर कई डेंगू मरीजों की मौत हो गई। एनएचआरसी ने प्रशासन से अपनी रिपोर्ट में दोषी अस्पतालों और नर्सिंग होम के खिलाफ उठाए गए कदमों के बारे में बताने को कहा है, जिसने डेंगू मरीजों को भर्ती करने से इनकार कर दिया। इसके साथ ही दिल्ली में डेंगू की रोकथाम और उपचार के लिए दीर्घावधि और लघु अवधि में उठाए जाने वाले कदमों से भी अवगत कराने को कहा गया है।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर -

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story