Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

10वीं की छात्रा से छेड़छाड़, विरोध करने पर जबरन पिलाया तेजाब

लड़की ने छेड़छाड़ का विरोध किया तो मनचलों ने जबरदस्ती छात्रा के मुह में तेज़ाब डाल दिया।

10वीं की छात्रा से छेड़छाड़, विरोध करने पर जबरन पिलाया तेजाब
नई दिल्ली. दिल्ली के कालकाजी इलाके में दसवीं की एक छात्रा को जबरन एसिड पिलाने का मामला सामने आया है। आरोप है कि स्कूल के पास कुछ लड़के पिछले एक महीने से लड़की को परेशान कर रहे थे। बुधवार शाम को छुट्टी के बाद मनचलों ने उसे घेरकर छेड़छाड़ की और जबरन एसिड पिलाकर फरार हो गए। लड़की को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां उसकी हालात गंभीर बनी हुई हैं।
रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्रा स्कूल से लौट रही थी, तभी रस्ते में चार लड़कों ने छात्रा से छेड़छाड़ करना शुरू कर दिया। लड़की ने छेड़छाड़ का विरोध किया तो मनचलों ने जबरदस्ती छात्रा के मुह में तेज़ाब डाल दिया। एसिड की वजह से लड़की के मुंह में छाले हो गए हैं। वह कुछ बोल नहीं पा रही है। बता दें कि लड़की ने यह सारी बातें लिखकर बताई हैं।
पीड़ित लड़की कालकाजी इलाके के एक स्कूल में 10वीं कक्षा की स्टूडेंट है। लड़की कालकाजी रहकर अपनी पढाई कर रही थी, जबकि उसका परिवार संगम विहार में रहता है। मनचलें पिछले एक महीने से छात्रा का लगातार पीछा कर रहे थे।
लड़की के पिता ने बताया कि, 'कुछ लड़के कई दिन से उनकी बेटी का पीछा कर रहे थे। लड़की ने इसकी शिकायत स्कूल मैनेजमेंट से भी की थी, लेकिन उन्होंने मामले को गंभीरता से नहीं लिया।' रोजाना स्कूल जाते समय होने वाली छेड़छाड़ से छात्रा काफी डर गई थी। बताया गया है कि करीब 15 दिन से छात्रा स्कूल नहीं गई तो प्रिंसिपल ने नाम काटने की वार्निंग दी तो परिवार वालों ने उसे स्कूल जाने को राजी किया था।'
लड़की मां ने बताया कि, "घटना के बाद स्कूल से फोन आया कि आपकी बेटी को चक्कर आ गए हैं। हम वहां पहुंचे तो बेटी स्कूल के बाहर रोड पर बेहोश मिली थी, इसके बाद परिवार वाले उसे सफदरजंग अस्पताल ले गए। जहां उसकी हालात गंभीर बनी हुई है। डॉक्टरों का कहना है कि लड़की को जबरन तेजाब पिलाने की कोशिश हुई है, हालांकि डॉक्टरों ने छात्रा को खतरे से बाहर बताया है।
सीसीटीवी से आरोपियों को तलाश रही पुलिस-
इस मामले में पुलिस ने तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ छेड़छाड़ और एसिड अटैक की धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। स्कूल के आसपास लगे सीसीटीवी की फुटेज भी खंलागी जा रही है ताकि पुलिस हमलावरों तक पहुंच सके।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top