Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली के राजेन्द्र प्लेस मेट्रो स्टेशन पर हुई लूट, दो आरोपी गिरफ्तार

गिरफ्तार आरोपियों से 10 लाख 55 हजार बरामद किए गए हैं।

दिल्ली के राजेन्द्र प्लेस मेट्रो स्टेशन पर हुई लूट, दो आरोपी गिरफ्तार
X
नई दिल्ली. राजेन्द्र प्लेस मेट्रो स्टेशन पर हुई लूट के मामले में पुलिस ने 10 लाख 55 हजार रुपये और पूर्व कर्मचारी समेत दो युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान पवन (22) और सोनू (23) के रूप में हुई है। पुलिस ने इनके पास से 10 लाख 55 पचपन हजार रुपये व लूट की रकम से खरीदा गया 23 हजार रुपये का एक मोबाइल फोन बरामद किया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। मेट्रो का पूर्व कर्मचारी पवन बीबीए की पढ़ाई कर चुका है।
मेट्रो स्मार्ट कार्ड की मदद से पकड़े गए आरोपी
राजेन्द्र प्लेस मेट्रो स्टेशन के भीतर हुई लूट की वारदात को सुलझाने में पुलिस की मदद मेट्रो स्मार्ट कार्ड ने की। आरोपियों ने जिस मेट्रो कार्ड की मदद से अंदर प्रवेश किया, वह मेट्रो कार्ड लगभग 36 घंटे पहले करोलबाग मेट्रो स्टेशन पर इस्तेमाल किया गया था। पुलिस ने जब उस शख्स की सीसीटीवी फुटेज देखी तो वह राजेन्द्र प्लेस मेट्रो स्टेशन का पूर्व कर्मचारी पवन निकला।
आरोपियों को किया गिरफ्तार
इस सुराग के बाद पुलिस ने तलाश कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पवन ने पुलिस को बताया कि बीबीए की पढ़ाई खत्म करने के बाद से वह मेट्रो में टोकन देने की नौकरी करता था। कुछ माह पूर्व उसकी कहासुनी स्टेशन कंट्रोलर कुणाल से हुई थी। उसने मेट्रो प्रशासन को उसे नौकरी से निकालने के लिए कहा था। इस पूरे विवाद के बाद उसकी नौकरी चली गई।
दुकान पर रची साजिश
पवन विजय नगर में ही मोबाइल रिचार्ज की दुकान चलाता था। उसके पिता पर काफी कर्ज था जो वह जल्द चुकाना चाहता था। सोनू मेट्रो में नौकरी करना चाहता था। उसे पवन ने बताया कि अगर वह जल्द रुपये कमाना चाहता है तो लूट की वारदात में उसका साथ दे। उसने बताया कि सुबह के समय मेट्रो स्टेशन कंट्रोलर के पास मोटी रकम होती है। वह इस समय सो रखा होता है। आसानी से वहां रखे लाखों रुपये वह लूट सकते हैं। इस रकम से उसका कर्ज चूक जाएगा और सोनू का कारोबार भी खुल जाएगा। यह साजिश वारदात से लगभग 15 दिन पहले रची गई।
मौजे में रखकर ले गया चाकू
पुलिस ने विजय नगर पवन के घर पर छापा मारा, लेकिन वह फरार हो चुका था। पुलिस ने उसे बुलंदशहर के पास से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि अपने साथी सोनू के साथ मिलकर उसने लूट को अंजाम दिया है। इस जानकारी पर पुलिस ने कुछ ही देर में दूसरे आरोपी सोनू को भी गिरफ्तार कर लिया। मीणा ने बताया कि पवन अपने मौजे में चाकू छिपाकर ले गया था।
पुलिस के मुताबिक
स्टेशन कंट्रोलर कुणाल को चाकू मारकर घायल कर दिया था। वारदात के तरीके से पता चला कि आरोपी मेट्रो स्टेशन के चप्पे-चप्पे से वाकिफ थे। इसे ध्यान में रखते हुए छानबीन की गई तो पवन गोस्वामी नामक युवक का नाम सामने आया। उसे चार माह पूर्व कुणाल के कहने पर नौकरी से निकाला गया था। (मुकेश कुमार मीणा, विशेष आयुक्त दिल्ली पुलिस)
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story