Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: डॉक्टरों की लापरवाही से 5 साल की बच्ची की मौत

अस्पताल के चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

दिल्ली: डॉक्टरों की लापरवाही से 5 साल की बच्ची की मौत
नई दिल्ली/यमुनानगर. शहर के भगत सिंह चौक के नजदीक स्थित निजी अस्पताल में बृहस्पतिवार शाम इलाज के दौरान पांच वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल के चिकित्सकों व कर्मचारियों पर इलाज के दौरान लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। इस दौरान गुस्साए परिजनों ने अस्पताल का शीशा तोड़ दिया और कर्मचारियों के साथ मारपीट की। सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझा कर शांत किया। छोटी लाइन निवासी इंदू भोला ने बताया कि उसकी पांच वर्षीय लड़की तनवी भोला काफी दिन से खाना नहीं खा रही थी।
इस दौरान वह आठ अगस्त को शाम सात बजे अपनी लड़की तनवी भोला को भगत सिंह चौक के नजदीक स्थित विवेकानंद अस्पातल में लेकर आई। इस दौरान अस्पातल में मौजूद चिकित्सक ने उसकी लड़की का बीपी चेक किया और खून के कुछ टेस्ट करने के लिए लिख दिया। इसके बाद उसने टेस्ट करवाए। इंदू ने बताया कि टेस्ट के लिए खून लेने के बाद से उसकी लड़की की तबीयत अचानक खराब होने लगी। चिकित्सकों ने तनवी को अस्पताल में दाखिल कर लिया। मगर दो दिन बीतने के बाद ही उसकी तबीयत में सुधार नहीं हुआ। परिजनों का आरोप है कि तबीयत अधिक खराब होने पर भी उसे दूसरे निजी अस्पताल में रैफर कर दिया। जहां पर इलाज के दौरान बृहस्पतिवार शाम उसकी मौत हो गई। मौत से गुस्साएं परिजनों ने जमकर मारपीट की।
विवेकानंद अस्पताल में पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान मृतक लड़की के परिजनों ने अस्पताल का शीश तोड़ दिया और कर्मचारियों के साथ जमकर मारपीट की। मामले की सूचना मिलते ही शहर थाना प्रभारी अजीत सिंह ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर परिजनों को शांत किया। जिसके बाद परिजन आरोपी चिकित्सक व कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।
विवेकानंद अस्पताल में कुछ लोग लड़की के मौत के बाद हंगामा कर रहे हैं। सूचना मिलते की मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत किया और वे लोग मान गए।उन्होंने बताया कि लिखित में शिकायत मिलने के बाद ही मामले में कार्रवाई की जाएगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top