Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दुष्कर्म के बाद दिल्ली को मिला ''स्टॉकिंग कैपिटल'' का टैग

स्टॉकिंग कैपिटल का मतलब होता है लड़कियों का पीछा करने वाला राज्य।

दुष्कर्म के बाद दिल्ली को मिला
नई दिल्ली. अगर दिल्ली को 'बलात्कार की राजधानी' (रेप कैपिटल) कहा जाए तो यह शर्मनाक नहीं होगा। राजधानी दिल्ली में बलात्कार के बाद दिल्ली को एक और टैग मिला है 'सटॉकिंग कैपिटल'। इसका मतलब होता है लड़कियों का पीछा करने वाला राज्य। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के ताजा आंकड़ों के अनुसार दिल्ली को यह टैग दी गई है। एनसीआरबी के डेटा के अनुसार दिल्ली में लड़कियों का पीछा कर परेशान करने के मामले दोगुना से ज्यादा बढ़ गए हैं।
दिल्ली में पिछले साल 2015 की तुलना में बलात्कार के मामले और बढ़ते ही जा रहे है। साल 2014 में यह आंकड़ा 541 था जो साल 2015 में बढ़ कर 1,124 हो गया। यही कारण है कि सभी राज्यों में दिल्ली दूसरे स्थान पर आ गई है।
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली से ज्यादा बलात्कार के मामले केवल महाराष्ट्र में दर्ज कि्ए हैं। माहाराष्ट्र में 1,399 मामले सामने आए हैं। दिल्ली महाराष्ट्र के बाद दुनिया का दूसरा राज्य बन गया है। कोई अन्य शहर इसके करीब भी नहीं आ सकते हैं।
दिल्ली में 2014 में महिलाओं के खिलाफ अपराधों की संख्या 15,265 दर्ज किए गए थे जो 2015 में बढ़ कर 17,104 तक पहुंच गए।
एनसीआरबी के अनुसार, यौन उत्पीड़न से गुजरने वाली अधिकतर महिलाएं 18 से 30 आयु वर्ग की होती हैं। 90 प्रतिशत के करीब मामलों में आरोपी पीड़ित के जानकार होते हैं।
दिल्ली में पिछले दिनों कुछ दिल दहलाने वाले मामले सामने आए। मई में एक लड़की का पीछा करने वाले लड़के ने आनंद पर्वत के मार्केट में मर्डर कर दिया। दिल्ली पुलिस ने एक सिपाही को डीयू की छात्रा से छेड़छाड़ के आरोप में गिरफ्तार किया गया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top