Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नोटबंदी के विरोध में संसद तक मार्च, डिप्टी CM सिसोदिया हिरासत में

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को हिरासत में लेकर पुलिस संसद मार्ग थाने ले गई।

नोटबंदी के विरोध में संसद तक मार्च, डिप्टी CM सिसोदिया हिरासत में
X
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 500 और 1000 रुपए के नोटों को कागज के टुकड़े में बदलने के ऐलान के बाद से लोग परेशान हैं। बैंकों में 500, 1000 के नोट बदलने और एटीएम से 2000 रुपए निकालने के लिए लंबी लाइन लग रहे हैं। विपझी दल नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्री मोदी का काले धन पर 'सर्जिकल स्ट्राइक' बता रहे हैं। इस बीच एक खबर यह भी है कि नोटबंदी के विरोध में संसद तक मार्च निकाल रहे आम आदमी पार्टी के वर्कर्स को पुलिस ने रोक दिया। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को हिरासत में लेकर पुलिस संसद मार्ग थाने ले गई।

सिसोदिया की अगुआई में यह मार्च
मंगलवार को सिसोदिया की अगुआई में यह मार्च निकाला जा रहा था। इसमें सीएम अरविंद केजरीवाल शामिल नहीं थे, वे फिलहाल पंजाब में हैं। हालांकि उन्होंने ट्वीट कर लोगों से इसमें शामिल होने की अपील की थी। वहीं दूसरी तरफ टीएमसी ने भी यह घोषणा की है कि वह कल नोटबंदी के खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना देगी।
नोटबंदी के खिलाफ आप और टीएमसी
मोदी सरकार के नोटबंदी फैसले के खिलाफ आप और तृणमूल कांग्रेस की लड़ाई तेज होती जा रही है। सिसोदिया के साथ बड़ी संख्या में आप वर्कर सड़क पर उतरे। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने सोमवार को आरोप लगाया था कि पीएम मोदी नोटबंदी के खिलाफ आवाज उठा रही पार्टियों को धमका रहे हैं।
ममता ने कहा- मैं इससे नहीं डरूंगी
ममता ने कहा, 'लेकिन मैं इससे नहीं डरूंगी। मैं प्रदर्शन जारी रखूंगी। वह मुझे जेल में डाल सकते हैं। यह ईगो की लड़ाई नहीं है। नोटबंदी पर एक्शन प्लान होना चाहिए था। इससे निपटने के लिए मिलकर काम करना होगा। लोग परेशानी में हैं। मैं 23 और 24 नवंबर को दिल्ली में रहूंगी और 20 नवंबर को लखनऊ में रहूंगी। मैं बिहार और पंजाब भी जाऊंगी। लड़ाई में अकेली नहीं हूं और तीन दूसरी पार्टियां भी राष्ट्रपति से मिलने के लिए मेरे साथ गए थे।'
पीएम को गंभीर होना चाहिए
ममता ने कहा, 'पीएम को गंभीर होना चाहिए। उन्हें पद के मुताबिक बर्ताव करना चाहिए। जरूरत पड़ने पर इस मुद्दे पर उन्हें सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए थी।'
नोटबंदी के खिलाफ संसद तक मार्च निकाला
बता दें नोटबंदी के खिलाफ पिछले बुधवार को ममता बनर्जी ने संसद तक मार्च निकाला था, जिसमें दूसरे कई दल शामिल हुए थे। गुरुवार को उन्होंने दिल्ली की आजादपुर सब्जी मंडी में केजरीवाल के साथ एक रैली भी की थी। रैली के बाद दोनों सीएम आरबीइ ऑफिस के बाहर जाकर बैठ गए थे और अफसरों से कुछ जानकारियां मांगी थीं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story