Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: डेंगू और चिकुनगुनिया के बाद बर्ड फ्लू का कहर, चिड़याघर बंद

15 अक्टूबर को 9 बर्ड्स की मौत के बाद जांच में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है।

दिल्ली: डेंगू और चिकुनगुनिया के बाद बर्ड फ्लू का कहर, चिड़याघर बंद
नई दिल्ली. राजधानी के कई चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। बेहद तेजी से फैलने वाली इस बीमारी को रोकने के लिए मंगलवार को चिड़ियाघर में टूरिस्टों की एंट्री मंगलवार को पूरी तरह रोक दी गई। माना जा रहा है कि कुछ चिड़ियाघरों को आम जनता के लिए बंद किया गया है।
सूत्रों का दावा है कि 15 अक्टूबर को चिड़ियाघर में 9 बर्ड्स की अचानक मौत हो गई थी। इससे जू प्रशासन सकते में आ गया था। लोकल स्तर पर जांच कराई गई। उसके बाद सैंपलों को जालंधर स्थित सरकार की डिजीज डायग्नोस्टिक लैब भेजा गया। वहां से सोमवार को आई रिपोर्ट में नौ में से आठ बर्ड्स की मौत का कारण बर्ड फ्लू बताया गया है। मामले की पुष्टि के लिए एनबीटी ने चिड़ियाघर के डायरेक्टर अमिताभ अग्निहोत्री से बात करने की कोशिश की, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका।
सूत्रों के मुताबिक, जू प्रशासन अब इस बात की जांच कर रहा है कि यहां मौजूद बाकी हजारों बर्ड्स और यहां आने वाले पर्यटकों के लिए बर्ड फ्लू कितना खतरनाक हो सकता है। बर्ड्स की मौतें बीट नंबर-5 और 15 में हुई हैं। बाकी बर्ड्स को बचाने के लिए आसपास के बाड़ों को खाली कराने की योजना बनाई जा रही है। प्रशासन को यह भी डर सता रहा है कि कहीं और बर्ड्स में इन्फेक्शन न फैल गया हो। गौरतलब है कि पिछले दिनों यहां 50 से ज्यादा चीतल हिरनों की भी मौतें हुई थीं। दिल्ली में प्रवासी पक्षियों का आना-जाना लगा रहता है। ओखला पक्षी विहार, यमुना बायो-डायवर्सिटी पार्क, नजफगढ़ ड्रेन बर्ड सैंक्चुरी में ऐसे पक्षी आते रहते हैं।
गौरतलब है कि 15 अक्टूबर को 9 बर्ड्स की मौत के बाद जांच में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी। अब जू की बाकी बर्ड्स और जानवरों में भी इंफेक्शन फैलने का खतरा मंडरा रहा है। इसलिए अब जू को आम लोगों के लिए बंद किया जा रहा है। बता दें कि पिछले दिनों 50 से ज्यादा चीतल हिरनों की मौत बर्ड फ्लू के कारण हो गई थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top