Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने वाले दयाशंकर रिहा

बसपा नेताओं का कहना है कि वे इस जमानत के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील करेंगे।

मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने वाले दयाशंकर रिहा

नई दिल्ली. बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने वाले बीजेपी के पूर्व नेता दयाशंंकर सिंह को रविवार को जेल से रिहाई दे दी गई है। दयाशंकर को 50 हजार रुपए के दो बॉन्ड पर जमानत दी गई है। गौरतलब है कि 29 जुलाई को उत्तर प्रदेश की स्पेशल फोर्स की टीम और बिहार टीम ने मिलकर बक्सर से दयाशंकर सिंह को गिरफ्तार किया था। सर्किल अधिकारी पंकज कुमार का कहना है कि मऊ शहर में दयाश्कर सिंह को न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया था।

पुलिस ने बताया कि जब दयाशंकर अपने एक रिश्तेदार के घर लिए निकले थे तब रास्ते से ही उन्हे गिरफ्तार किया गया था। अपशब्द कहने के आरोप में जेल में बंद बीजेपी के पूर्व नेता दयाशंकर सिंह रविवार को मऊ जेल से रिहा हो गए। उनकी रिहाई के बाद से ही बसपा नेताओं ने अफरा-तफरी मचा दी।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, बसपा नेताओं का कहना है कि वे इस जमानत के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील करेंगे। बसपा के महासचिव सतीश चंद्र मिश्र का कहना है कि ये जमानत जायज नहीं है और इसे हाई कोर्ट में चुनौती दी जाएगी।

दरअसल, दयाशंकर ने मायावती के लिए कहा था कि उनके खराब चरित्र के कारण कांशी राम के बनाए हुए कार्यकर्ता उनका साथ छोड़कर जा रहे हैं और बसपा समाप्त हो रही है। उन्होंने कहा था कि मायावती किसी को एक करोड़ में टिकट देती हैं तो किसी को तीन करोड़ में। इस टिप्पणी के बाद ही दयाशंकर पर आइपीसी की धारा के 504, 509, 153 (ए) के तहत मामला दर्ज किया गया था। हजरतगंज पुलिस थाने में एक शिकायत एक बसपा कार्यकर्ता की ओर से दायर की गई थी।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top