Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राहुल फिर नहीं बन पाए कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के सदस्यों में मतभेद

पार्टी ने इसके लिए चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखी है।

राहुल फिर नहीं बन पाए कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के सदस्यों में मतभेद
नई दिल्ली. कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी का प्रमोशन एक बार फिर टल गया है। अभी सोनिया गांधी ही पार्टी अध्यक्ष बनीं रहेंगी। कांग्रेस ने संगठन चुनाव के लिए एक साल का और वक्त मांगा है। पार्टी ने इसके लिए चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखी है। कांग्रेस ने संगठन चुनाव को पहले ही एक साल के लिए टालकर दिसंबर 2016 कर दिया था। पार्टी में फैसले लेने वाली शीर्ष संस्था सीडब्ल्यूडी बैठक में स्वास्थ्य कारणों की वजह से सोनिया गांधी शामिल नहीं हुईं। इसके बाद यह लगभग तय हो गया था कि अभी राहुल गांधी को अध्यक्ष नहीं बनाया जाएगा।
राहुल के आक्रामक तेवर
हालांकि, सोमवार को दिल्ली में हुई कांग्रेस कार्यसमित (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में सर्वसम्मति से यह मांग उठाई गई कि राहुल गांधी को अब पार्टी की कमान सौंप देनी चाहिए। बहुत से सदस्यों का यह मानना है कि पिछले कुछ समय में कई मुद्दों पर राहुल ने आक्रामक रुख अपनाया है। खासकर वन-रैंक वन पेंशन(ओआरओपी) के मामले को उन्होंने जिस तरह से उठाया, उससे पार्टी कार्यकर्ताओं में सकारात्मक संदेश गया है। ऐसे में उन्हें कमान अपने हाथ में ले लेनी चाहिए। सदस्यों ने कहा है कि इस संबंध में पार्टी अध्यक्ष को बताया जाएगा।
चुनावी दौर जारी
पार्टी के सूत्रों का कहना है कि संगठन का चुनाव एक साल से ज्यादा समय के लिए टालने की जरूरत इसलिए पड़ी कि चुनाव कराने के लिए बहुत कम वक्त बचा है और पार्टी को अगले साल होने वाले चुनावों पर फोकस करना है। कई लीडर्स ऐसे हैं जिनमें इस बात को लेकर मतभेद है कि राहुल को कब प्रमोट किया जाए। वे चाहते हैं कि इस काम को आगामी विधानसभा चुनाव तक के लिए टाल दिया जाए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top