Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

काम करने के लिए सातवीं सबसे महंगी जगह है कनॉट प्लेस: रिपोर्ट

कनॉट प्लेस दुनिया का सातवां सबसे महंगा कार्यालय स्थल:रिपोर्ट

काम करने के लिए सातवीं सबसे महंगी जगह है कनॉट प्लेस: रिपोर्ट
नई दिल्ली. प्रॉपर्टी कंसल्टेंट सीबीआरई (CBRE) के अनुसार दिल्ली स्थित कनॉट प्लेस दुनिया में सातवें नंबर पर सबसे महंगा कार्यालय स्थल है। रिपोर्ट में बताया गया कि बिज़नेस करने के लिहाज से सबसे महंगी जगहों में कनॉट प्लेस सातवें स्थान पर है। बीते वर्ष यह इसी लिस्ट में अपने छठे स्थान पर था।

सीबीआरई (CBRE) की ग्लोबल प्राइम ऑफिस ऑक्युपेंसी रिसर्च की ताजा वार्षिक रिपोर्ट में ये रैंकिंग पेश की गयी है। जिसमें मुंबई के बांद्रा कुर्ला काम्प्लेक्स को 19वें पायदान पर रखा गया है। वहीं, नरीमन पॉइंट को 34 वें पायदान पर जगह मिली है।

सीबीआरई ने बताया कि एक वर्ष में करीब दस हजार रुपये प्रति स्क्वायर फुट की दर के हिसाब से नई दिल्ली का केंद्रीय व्यापार स्थल कनॉट प्लेस विश्व की प्राइम ऑफिस मार्केट लिस्ट में सातवें स्थान पर है।

इस लिस्ट में हांगकांग (सेंट्रल) नंबर 1 पर है। जो दुनिया में बिज़नेस के हिसाब से सबसे महंगी जगह मानी जाती है। यहां एक स्क्वायर फुट ऑफिस स्पेस की कीमत 19,439 रुपए प्रति वर्ष है। दूसरा स्थान लंदन सेंट्रल का है जिसकी एक स्क्वायर फुट ऑफिस कीमत 17,600 रुपये प्रति वर्ष है। साथ ही तीसरे, चौथे और पांचवे नंबर पर पेईचिंग (फाइनेंस स्ट्रीट), पेईचिंग (सीबीडी) और हांगकांग (वेस्ट काउलून) हैं।

इसके साथ ही लिस्ट में फिर टोक्यो, लंदन सेंट्रल, न्यूयॉर्क और शंघाई का नंबर आता है। सीबीआरई द्वारा बीते वर्ष दिसंबर में जारी की गयी लिस्ट में लंदन सेंट्रल पहले स्थान पर था। तब कनॉट प्लेस को छठे स्थान पर जगह मिली थी।

सीबीआरईके दक्षिण एशियाई यूनिट के चेयरमैन और एमडी अंशुमन मैगजीन ने कहा कि बीते साल में भारत में रियल कमर्शियल स्टेट में सकरात्मक बदलाव देखे गए हैं। सातवें नंबर पर मौजूद कनॉट प्लेस में फ्रंट ऑफिस की मांग तो बढ़ी है। साथ ही बिजनेस के लिए कनॉट प्लेस ने लोगों को अपनी और आकर्षित किया है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सेन्ट्रल में होने की वजह से कनॉट प्लेस ने बेहतर कनेक्टिविटी के आलावा बैंक और वित्तीय संस्थाओं को भी आकर्षित किया हैं। बड़ी-बड़ी इंजीनियरिंग फार्म्स भी इससे जुड़ने को आतूर हैं। उन्होंने कहा कि भारत लगातार MNCs के लिए एक बेहतर विकल्प बनने को है।

सर्वे के मुताबिक इस बार एशिया टॉप 10 मार्केट की लिस्ट में शीर्ष पर रहा है। टॉप 10 की सूची में सात एशिया के ही अलग-अलग देशों की मार्केट हैं। प्राइम ऑफिस स्पेस की कीमत विश्व की तुलना में एशिया पैसिफिक रीजन में जद बढ़ी है। हालांकि दक्षिण-पूर्वी एशिया स्थित सिंगापुर और जकार्ता में प्राइम ऑफिस स्पेस की कीमत में कमी आयी है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top