Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रेल मंत्रालय: एक जुलाई से नहीं बदलेंगे रेलवे के नियम

रेलवे मंत्रालय ने कहा है कि एक जुलाई से कोई नई योजना या परिवर्तन नहीं होने जा रहा है।

रेल मंत्रालय: एक जुलाई से नहीं बदलेंगे रेलवे के नियम
नई दिल्ली. रेल मंत्रालय ने नियमों में होने वाले परिवर्तनों को लेकर उड़ रहीं अफवाहों पर लगाम लगा दी है। कुछ दिनों से व्हाट्सएप्प और कुछ वेब साइट्स पर रेलवे मंत्रालय में परिवर्तन की खबरें लगातार शेयर हो रही थी। रेल मंत्रालय ने स्पष्टीकरण देते हुए इन खबरों को सिरे से ख़ारिज कर दिया है।
बता दें कि सोशल मीडिया और कुछ वेब साइट्स पर यह खबर थी कि रेल मंत्रालय 1 जुलाई 2016 से नई सुविधाओं और बदलावों को पेश करने वाला है। इसके साथ ही रेलवे में कुछ खास सुविधाओं को लेकर भी ख़बरें फैलाई जा रही थी।
इन अफवाहों पर रोक लगाने के लिए रेल मंत्रालय खुद आगे आया और एक नोटिफिकेशन जारी करते हुए इन सब बातों को सरासर गलत बताया है। रेलवे मंत्रालय ने कहा है कि इस तरह की ख़बरें रेल उपभोगताओं के लिए भ्रम पैदा करने वाली हैं।
इस मामले में रेल मंत्रालय ने दस बातें साफ की हैं:
1- एक जुलाई से कोई नई योजना या परिवर्तन नहीं होने जा रहा है।
2- रेलवे टिकट प्रतीक्षा दोनों ऑनलाइन (ई-टिकट) और पीआरएस काउंटरों के माध्यम से बेचा जाता है। इस योजना और रेलवे में कोई बदलाव नहीं आया है। दोनों ऑनलाइन और पीआरएस काउंटर के माध्यम से प्रतीक्षा टिकट बेचना जारी रहेगा।
3- रेलवे जुलाई 2015 के बाद से गाड़ियों में सुविधा कक्ष चला रहा है। गाड़ियों में सुविधा क्लास आगे भी जारी रहेगा। जरुरत होने पर इन गाड़ियों में वेटेड क्लास का टिकट भी उपलब्ध है। शुरुआत से ही सुविधा ट्रेन टिकटों के मामले में रिफंड का भी प्रावधान है।
4- रेलवे ने नवंबर 2015 में नए रिफंड नियमों को अधिसूचित किया था। जो अब भी जारी रहेंगे और उनमें कोई बदलाव नहीं किया गया है।
5- शताब्दी, राजधानी और अन्य ट्रेन के किसी भी वर्ग के लिए पेपर टिकट बंद करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। हालांकि, ई -टिकट में टिकट बुकिंग के समय ऑनलाइन यात्रियों द्वारा एक प्रमाण के तौर पर टिकट एसएमएस द्वारा प्राप्त करके यात्रा करना वैध है।
6- तत्काल टिकट के लिए बुकिंग समय पिछले साल एक दिन के लिए बदल गया था जिसमे एसी बुकिंग 10 बजे और दिन में नॉन-एसी क्लासें 11 बजे ही चालू होती थी। इनके समय में कोई बदलाव नहीं हुआ है।
7- बुकिंग कोच और गाड़ियों के लिए नई योजना नहीं बनाई गई है। मौजूदा योजना कई वर्षों से चल रही है और आगे भी जारी रहेगी।
8- तत्काल टिकट वापसी के नियमों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। मौजूदा नियम के तहत टिकट रद्द करने पर कोई रिफंड नहीं दिया जाता है। नकली तत्काल टिकट जैसे मामलों में नियम बनाए जा रहे हैं।

9- रेलवे पहले से ही अपनी हेल्पलाइन नंबर 139 के अलावा अलर्ट सुविधा भी चला रहा है। कुछ राजधानी और शताब्दी ट्रेनों में एक नि:शुल्क प्लेटफार्म अलर्ट सेवा भी चलाई जा रही है। प्लेटफार्म पर ट्रेन के आगमन के लिए 11 बजे से 6 बजे के बीच एक पायलट सुविधा उपलब्ध है। इस सुविधा में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है।

10- अक्टूबर 2016 में रेलवे अपनी नई रेलवे समय-सारणी लागू करेगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top