Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली पुलिस और आप सरकार में पड़ी दरार, दशहरे पर नहीं होगी राजधानी ''कार मुक्त''

सीपी के इनर सर्कल में कारों की नॉ एंट्री।

दिल्ली पुलिस और आप सरकार में पड़ी दरार, दशहरे पर नहीं होगी राजधानी
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस और आप सरकार एक बार फिर आमने-सामने हैं। इस बार मुद्दा है दिल्ली में 'कार फ्री डे' कार्यक्रम को आयोजित करने का। दरअसल, आप सरकार ने दशहरे के दिन 22 अक्टूब को लाल किले से इंडिया गेट तक की सड़क को कारों से मुक्त रखने का फैसला किया था, लेकिन दिल्ली सरकार ने इसे लेकर कोई फैसला करने से पहले पुलिस बल से ‘पूर्व विचार विमर्श’नहीं किया।

जल्दबाजी में लिया गया फैसला- बीएस बस्सी
मुख्य सचिव केके शर्मा को लिखी अपनी चिट्ठी में पुलिस उपायुक्त बीएस बस्सी ने कहा कि कार्यक्रम मनाने के लिए 22 अक्तूबर का दिन चुनना जिस दिन लोग दशहरा मनाएंगे, ‘जल्दबाजी में लिया गया काफी अव्यवहारिक कदम’ लगता है। दिल्ली पुलिस और आप सरकार के बीच पूर्व में कई मुद्दों पर विवाद रहा है। इस कदम से दोनों पक्षों के बीच नए सिरे से टकराव बढ़ सकता है।
सीपी के इनर सर्कल में कारों की नॉ एंट्री
कनॉट प्लेस के इनर सर्कल में गाड़ियों की भीड़ कम करने करने के लिए इस एरिया को कार फ्री बनाने की तैयारी है। इसे सिर्फ पैदल यात्रियों के लिए रिजर्व करने की योजना पर काम चल रहा है। एनडीएमसी दिसंबर के बाद से इनर सर्कल में वाहनों की एंट्री पर रोक लगाने पर विचार कर रही है। अभी सेंट्रल पार्क और इनर सर्कल में रोजाना दो लाख लोग आते हैं।
गोपाल राय ने कहा, कार फ्री डे के रास्ते में राजनीतिक अहम न आए
परिवहन मंत्री गोपाल राय ने कहा कि ‘कार फ्री डे’ के रास्ते में ‘राजनीतिक अहम’ नहीं आना चाहिए, क्योंकि इसका उद्देश्य लोगों को सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल के लिए प्रेरित करना और दिल्ली की हवा को स्वच्छ बनाने के लिए प्रदूषण का स्तर कम करना है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top