Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फेलोशिप जारी रखने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर लाठीचार्ज, कई घायल

इससे पहले मानव संसाधन विकास मंत्री स्‍मृति ईरानी ने भी ट्वीट कर नॉन-नेट फेलोशिप को जारी रखने की बात कही थी।

फेलोशिप जारी रखने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर लाठीचार्ज, कई घायल
नई दिल्ली. नॉन-नेट फेलोशिप को लेकर आईटीओ पर यूजीसी के दफ्तर पर प्रदर्शन कर रहे जेएनयू, डीयू और जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्रों पर पुलिस ने मंगलवार शाम लाठीचार्ज किया, जिसमें कई विद्यार्थी घालय हो गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार, लाठीचार्ज में घायल चार छात्रों को इलाज के लिए लोक नारायण जय प्रकाश (एलएनजेपी) में भर्ती कराया गया। पुलिस 30 से अधिक छात्रों को हिरासत में लिया और उन्हें कमला मार्केट थाने में रखा गया है।
जवाहरलाल नेहरू (जेएनयू) छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने बताया कि शाम 5:30 बजे के करीब पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों ने यूजीसी के दफ्तर के सामने प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों हटाना शुरू कर दिया। जब छात्रों ने वहां से हटने से मना किया तो उन्होंने छात्रों के ऊपर लाठियां भांजनी शुरू कर दीं।
पिछले कई दिनों से जेएनयू, डीयू और जामिया जैसे केंद्रीय विश्‍वविद्यालयों के छात्र नॉन-नेट फेलोशिप बंद करने के यूजीसी के फैसले के खिलाफ #OccupyUGC की मुहिम चला रहे हैं। यह आंदोलन तेजी से देश के अन्‍य विश्‍वविद्यालयों तक भी पहुंच रहा है। सोमवार को एक बार फिर तमाम छात्र संगठनों ने यूजीसी पर हल्‍ला बोल का ऐलान किया था लेकिन रविवार रात को मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने एक विज्ञप्त्‍िा जारी कर छात्रों के गुस्‍से को ठंड़ा करने का प्रयास किया।
इससे पहले मानव संसाधन विकास मंत्री स्‍मृति ईरानी ने भी ट्वीट कर नॉन-नेट फेलोशिप को जारी रखने की बात कही थी। लेकिन सरकार की इन कोशिशों के बावजूद मंगलवार को सैकड़ों आंदोलनकारी छात्र फेलोशिप से जुड़े मुद्दों को लेकर यूजीसी मुख्‍यालय पहुंचे। छात्रों की मांग थी कि उन्हें बयानवाजी नहीं बल्कि लिखित में फेलोशिप जारी रखने का आश्वासन चाहिए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top