Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंधे बच्चों के यौन शोषण के लिए भारत आकर बस गया ये विदेशी

पुलिस को इसके लैपटॉप और मोबाइल से कई बच्चों अश्लील वीडियो मिले हैं।

अंधे बच्चों के यौन शोषण के लिए भारत आकर बस गया ये विदेशी

दिल्ली पुलिस ने एक ब्रिटिश नागरिक को गिरफ्तार किया है। पुलिस को इसके लैपटॉप से 15-20 बच्चों की आपत्तिजनक फोटो बरामद हुई हैं।

इतना ही नहीं 54 साल के मुर्रे डेनिस वार्ड पर आरोप हैं कि इसने तीन नाबालिग नेत्रहीन बच्चों का यौन शोषण किया है। इसके अलावा इसके पास से पुलिस को अश्लील वीडियो और फोटोग्राफस भी मिले हैं।

पुलिस को जांच में पता चला है कि एक नेत्रहीन संस्था को दान भी देता है। पुलिस ने इस वसंतकुंज से गिरफ्तार किया है। साइबर सेल ने इसका मोबाइल और लैपटॉप को जब्त कर लिया है और जांच में जुट गई है।

सूत्रों ने बताया कि 3 सितंबर को पुलिस को सूचना मिली थी कि आरकेपुरम में नेशनल असोसिएशन फॉर ब्लाइंड (NAB) में तीन नेत्रहीन नाबालिगों का शारीरिक शोषण किया जा रहा है।

पुलिस ने मौके पर जाकर तीनों बच्चों का बयान लिया। आरोपों की पुष्टि होने पर पुलिस ने पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज कर आरोपी ब्रिटिश नागरिक को उसके घर से पकड़ लिया।

डीसीपी (साउथ) ईश्वर सिंह के मुताबिक, शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी पिछले 8-9 साल से एनबीए में आ रहा है। डोनेशन भी देता था।

अक्टूबर 2016 में वह एक साल के वीजा पर फिर से भारत आया। अप्रैल 2017 तक उसने गुड़गांव की एक टेक्नॉलजी कंपनी में नौकरी की थी। फरवरी में उसे पैरालिसिस अटैक पड़ा था। इसके बाद भी वह एनएबी लगातार आता रहा।

डीसीपी ने बताया कि आरोपी से जिस तरह की अश्लील वीडियो क्लिपिंग मिली है, उससे लगता है कि वह नेत्रहीन नाबालिग बच्चों का शारीरिक शोषण करता था। पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि उसने ऐसे कितने बच्चों को शिकार बनाया।

Next Story
Top