Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रिश्वत मामला: 5 दिन की सीबीआई रिमांड पर बीएल अग्रवाल, सस्पेंड

इससे पहले सीबीआई ने 6 साल पूर्व उनके खिलाफ फर्जीवाड़े का एक और केस दर्ज किया था।

रिश्वत मामला: 5 दिन की सीबीआई रिमांड पर बीएल अग्रवाल, सस्पेंड
नई दिल्ली/रायपुर. पुराने मामले को रफादफा करने डेढ़ करोड़ की रिश्वत देने की कोशिश करने के आरोप में आखिरकार राज्य के वरिष्ठ आईएएस अफसर प्रमुख सचिव बीएल अग्रवाल को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया। उनके साथ साला और एक बिचौलिए को भी हिरासत में लिया गया है।
सीबीआई ने तीनों को पटियाला कोर्ट की विशेष सीबीआई अदालत में पेश किया, जहां से उनको पांच दिनों के लिए रिमांड पर सीबीआई को सौंप दिया गया। उनको सीबीआई मुख्यालय में पूछताछ के लिए रखा गया है। इधर, गिरफ्तारी की सूचना के साथ ही सरकार ने अग्रवाल को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया।
सीबीआई की टीम ने तीन दिन की जांच के बाद मंगलवार सुबह अग्रवाल को रायपुर स्थित उनके निवास से हिरासत में लिया। श्री अग्रवाल के अलावा इस मामले में जुड़े उनके साले आनंद अग्रवाल को भी उनके घर से ही हिरासत में लिया गया। इसके अलावा इसी मामले में बिचौलिए भगवान सिंह भी पकड़ा गया है। सुबह हिरासत में लेने के बाद अग्रवाल और उनके साले को सीबीआई के इंस्पेक्टर ललित फुलर विमलान से दिल्ली ले गए। वहां पूछताछ के बाद शाम को कोर्ट में पेश कर आगे की पूछताछ के लिए सीबीआई ने रिमांड मांगी। कोर्ट ने पांच दिन की सीबीआई अभिरक्षा मंजूर की है। अब सीबीआई दिल्ली के अधिकारी दिल्ली में ही उनसे पूछताछ करेंगे।
गौरतलब है, वरिष्ठ आईएएस अफसर तथा उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव अग्रवाल के निवास पर सीबीआई ने शनिवार की रात दबिश दी थी। इसके बाद से उनसे लगातार पूछताछ की जा रही थी। रविवार को रिश्वत देने का मामला प्रकाश में आने के बाद सीबीआई ने उनके खिलाफ नया केस दर्ज किया।
इससे पहले सीबीआई ने 6 साल पूर्व उनके खिलाफ फर्जीवाड़े का एक और केस दर्ज किया था। सीबीआई सूत्रों की माने तो बीएल अग्रवाल अपने पुराने मामले को खत्म करवाना चाहते थे। इसके लिए उनके द्वारा सीबीआई को रिश्वत की पेशकश की गई थी। इस केस में उनके साथ दिल्ली का भगवान सिंह उर्फ हैदराबाद का बुरहानुद्दीन उर्फ ओपी शर्मा भी शामिल हैं। बुरहानुद्दीन खुद को दिल्ली में प्रधानमंत्री कार्यालय का अफसर बताता रहा था, लेकिन वह नहीं है। उसी ने केस को निपटाने की जिम्मेदारी ली थी। सीबीआई के अफसरों ने बताया कि लेन-देन की बात भगवान सिंह ने कराई थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top