Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''आप'' सरकार की सफाई रास न आई

भाजपा ने किया सीएम आवास पर विरोध-प्रदर्शन

नई दिल्ली. आप की सफाई, रास न आई विपक्ष ने सीडी कांड में फंसे मंत्री का विरोध करते हुए बृहस्पतिवार को सीएम व पूर्व मंत्री संदीप कुमार के आवास पर विरोध प्रदर्शन किया। दिल्ली भाजपा ने महिलाओं के सम्मान का हवाला देते हुए संदीप कुमार को तुरंत पार्टी से निष्कासित करने की मांग सीएम से की। इस दौरान दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा कि पूर्व मंत्री संदीप कुमार को उनकी पार्टी से नैतिक आधार पर निष्कासित किया जाना चाहिए।
पहले भी किसी विवाद या अन्य मुद्दों के चलते कई मंत्रियों को बर्खास्त किया गया है और ऐसा एक बार फिर होना आम आदमी पार्टी के असली चेहरे को दिखाता है। वहीं सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि जो केजरीवाल ने टिकट देने से पहले दावा किया था कि उन्होंने चुन-चुन कर अच्छे लोगों को टिकट दिया। लेकिन अब विधायकों पर इस तरह के आरोप क्यों लग रहे हैं। इसका जवाब सीएम को देना चाहिए।
दलित हूं इसलिए फंसाया गया: संदीप
सेक्स स्कैंडल के बाद मंत्रिमंडल से बाहर किए गए संदीप कुमार ने दलित कार्ड खेलते हुए खुद को निदरेष बताया है। उन्होंने कहा कि वह दलित परिवार से हैं उन्हें फंसाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मैं वाल्मिकी समाज से हूं इसलिए मेरे खिलाफ साजिश रची गई है। इस मामले की जांच होनी चाहिए। इस सीडी में जिसे दिखाया गया है वह काफी पतला है जबकि मेरा शरीर भारी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने उन्हें पद से नहीं हटाया बल्कि उन्होंने खुद इस्तीफा दिया है।
अन्यों पर करें कार्रवाई
नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने सीएम से इस्तीफे की मांग करते हुए अन्य आरोपियों पर भी कार्रवाई करने की अपील की। उन्होंने कहा कि सीएम अपने मंत्री व विधायक के गलत कायरें को रोकने में नाकामयब रहे हैं। इससे साबित हो रहा है कि आम आदमी पार्टी महिलाओं का शारीरिक शोषण करने, उन्हें ब्लैकमेल करने में माहिर है। उन्होंने कहा कि संदीप दिल्ली सरकार के तीसरे मंत्री हैं जिन्हें संगीन अपराध में बर्खास्त किया गया है।
इससे पहले आसिम अहमद खान, सोमनाथ भारती, जितेन्द्र सिंह तोमर को बर्खास्त किया गया था। विधायकों में शरद चौहान, नरेश यादव, अमानतुल्लाह खान, दिनेश मोहनिया, प्रकाश जरवाल, कमांडो सुरेन्द्र सिंह, मनोज कुमार, अखिलेश त्रिपाठी, महेन्द्र यादव, जगदीप सिंह, जरनैल सिंह, राजेश ऋषि को पुलिस ने गंभीर अपराधों के आरोप में या तो गिरफ्तार किया या उन्हें हिरासत में लिया गया था। आप के 38 विधायक दिल्ली पुलिस के राडार पर हैं। इनके खिलाफ जांच चल रही है।
गौतम हो सकते हैं नए मंत्री!
संदीप को बर्खास्त करने के बाद सरकार ने नए मंत्री के लिए तलाश शुरू कर दी है। सूत्रों की माने तो पार्टी किसी दलित विधायक को ही मंत्रिमंडल में शामिल कर सकती है। इसमें पार्टी के महासचिव और सीमापुरी की आरक्षित सीट से विधायक राजेन्द्र पाल गौतम के नामों पर चर्चा है। केजरीवाल उन्हें प्राथमिकता दे सकते हैं। इनके अलावा विधायक विशेष रवि, प्रकाश जारवाल या गिरीश सोनी पर भी विचार किया जा सकता है। बता दें कि आप के 67 विधायक हैं। इसमें से दो मंत्री सीएम पहले ही बर्खास्त कर चुके हैं।
शिकायत दर्ज
पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने दिल्ली सरकार के बर्खास्त महिला विकास कल्याण मंत्री संदीप कुमार, मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री के खिलाफ पुलिस कमिशनर को क्रिमिनल कम्प्लेंट दी व इन सबको गिरफ्तार करने की मांग की है। बाकि 21 विधायक संसदीय सचिव है। जिसके बाद आरक्षित सीट से नया मंत्री बनाया जाना है। विधानसभा की 12 आरक्षित सीटों में विशेष रवि, राजेन्द्र पाल गौतम, प्रकाश जारवाल, अजय दत्त में से किसी एक को केजरीवाल के मंत्रिमंडल में शामिल किया जाता है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top