Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऐसे चलेगा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ मिशन

सरकार के आव्हान पर देश में कई एनजीओ ने सक्रिय होकर काम करना शुरू कर दिया है।

ऐसे चलेगा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ मिशन

नई दिल्ली. केंद्र सरकार 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' योजना को देशभर में आगे बढ़ाने की दिशा में स्वयंसेवी संस्थाओं को प्रोत्साहित कर रही है। सरकार का मकसद है कि जनभागीदारी से इस मिशन को तेजी से आगे बढ़कार सामाजिक सुधार करना है।

केन्द्र सरकार की 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' योजना, स्वच्छता अभियान, कौशल विकास योजना, मुद्रा बैंकिग आदि को दिशा देने के लिए सरकार के आव्हान पर देश में कई एनजीओ ने सक्रिय होकर काम करना शुरू कर दिया है। इसी दिशा में शुक्रवार का तपशिल जाति आदिवासी प्रकटन सैनिक कृषि बिकास शिल्प केंद्र के सचिव सौमेन कोले यहां बताया कि उनकी संस्था ने केंद्र सरकार के इन अभियानों को आगे बढ़ाने के लिए कुछ मांगे रखते हुए विभिन्न मंत्रालयों के मंत्रियों एंव अधिकारियो से मुलाकात की है।
सरकार के प्रोत्साहित करने से उनकी संस्था के साढ़े छह हजार कार्यकताओं ने आगामी चार जुलाई से 20 जुलाई तक पश्चिम बंगाल के 18 जिलों में फैले 204 प्रखंडों के आदिवासी, अल्पसंख्यक एवं ग्रामीण क्ष़ेत्रों के पिछड़े एवं वंचित समुदाय के लोगों तक इन योजनाओं को पहुंचाने के लिए एक अभियान शुरू करने का निर्णय लिया है। उनका कहना है कि ये ऐसे क्षेत्र हैं जहां हजारों की संख्या में आदिवासी, अल्पसंख्यक एवं ग्रामीण क्ष़ेत्रों के पिछड़े एवं वंचित समुदाय के लोग पिछले 35 वर्षों से स्थायी होने की बाट जोह रहे हैं।
35 साल पहले 20 सूत्री योजना के तहत उनके संगठन की स्थापना हुई थी, जिन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों के वंचित समुदायों के उत्थान के लिए शिक्षा, वानिकी, मछली पालन जैसे कृषि के सहायक कार्यों एवं इन पिछड़े लोगों के विकास के लिए काम किया। कौल का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी ने ग्रामीण क्षेत्रों ओर पिछडे वर्ग के लिए ऐसी योजनाएं जल्द ही कई अरसों से वंचित लोगों को समाज की मुख्य धारा में जोड़ने का काम करेंगी। ऐसी उम्मीदें जगी हैं।
सौमेन कोले ग्रामीण विकास मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह व कृषि मंत्री राधामोहन सिंह से मिल कर ऐसे लोगों के उत्थान और कल्याण संबन्धी मांगों से अवगत कराया, जिसके लिए सरकार सहूलियतें देने को तैयार है।
स्कूल में छात्राओं से छेड़छाड़ के आरोप में शिक्षक हिरासत में
जिले में एक सरकारी स्कूल में तीन छात्राओं से कथित तौर पर छेड़छाड़ के आरोप में एक शिक्षक को शुक्रवार को हिरासत में लिया गया। पुलिस ने बताया कि ए पलिपट्टी में एक सरकारी स्कूल में काम करने वाले ए सेंतिल कुमार ने तीन लड़कियों से छेड़छाड़ की। तीनों की उम्र करीब 13 साल है। जिला पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि छेड़छाड़ के बारे में छात्राओं से मिली शिकायत के बाद कुमार को हिरासत में लिया गया।
एक अधिकारी ने बताया कि हम शिक्षक से पूछताछ कर रहे हैं और पोक्सो (यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण) कानून के तहत उसके खिलाफ एक मामला दर्ज किया है। उन्होंने कहा कि शिक्षक को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा और उन्हें एक अदालत में पेश किया जाएगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top